Real-estate से पैसे कैसे कमाए

क्या आप अपने बचत के पैसों से और पैसे बनाना चाहते हो? या फिर आप अपने आने वाली पीढ़ी को वित्तीय रूप से आत्मनिर्भर बनाना चाहते हो। मतलब कि फाइनेंशली इंडिपेंडेंट बनाना चाहते हो? अगर हां तो मेरे पास एक तरीका है जिससे की आप अपने पैसे को आने वाले कल में दोगुना कर सकते हो। मैं जानती हूं कि पैसा कमाना एक बहुत मेहनत का काम होता है। इसीलिए हम सब चाहते हैं कि उस मेहनत के कमाए हुए पैसे को हम ऐसी जगह लगाए जहाँ से हमें आगे चलकर मुनाफा हो।

जिससे कि हमारे आने वाले कल में हम अपने आपको और अपने परिवार को सुरक्षित रख सके। इसीलिए मैं आज आपको बताऊंगी पैसे कमाने के एक बहुत ही जाने माने तरीके के बारे में जो कि है Real-estate में पैसे निवेश करके पैसे कमाना क्योंकि अगर आप कागजात सही से पढ़ोगे और तब जाकर कोई प्रॉपर्टी खरीदोगे तो आपके पैसे डूबने की बहुत कम संभावना रहती है।

जिस कारण से ज्यादातर लोग अपना पैसा real-estate में निवेश करते हैं और Real-estate हमारे देश की जीडीपी को बढ़ाने में एक बहुत महत्वपूर्ण किरदार निभाती है। इसीलिए आज के आर्टिकल Real-estate से पैसे कैसे कमाए में मैं आपको बताऊंगी कि आप किस तरह से real-estate से पैसे कमा सकते हो। जिससे आप मुनाफे के साथ-साथ अपने देश के लिए भी कुछ कर पाओ। Real-estate से पैसे कमाना थोड़ा पेचीदा काम हो सकता है और उसका कारण आपको मेरा आर्टिकल पढ़कर समझ में आ जाएगा तो चलिए आज के इस आर्टिकल से हम समझने की कोशिश करते है कि real-estate क्या होता है? आपको real-estate में पैसे लगाने से पहले किन-किन चीजों का ध्यान रखना पड़ेगा।

Real-estate से पैसे कैसे कमाएं
Real-estate से पैसे कैसे कमाएं

Real-estate क्या होता है

कोई भी संपत्ति जो की जमीन या सड़क के रूप में रहती है। उसे हम लोग real-estate कहते है। Real-estate को 3 भागो में बांटा गया है जिसमें सबसे पहला होता है जमीन दूसरा कमर्शियल और तीसरा रेजिडेंशियल अब चलिए इन तीन प्रकारों को थोड़ा विस्तार में समझ लेते है।

  1. जमीन- जमीन जिसे हम लोग अंग्रेजी में land कहते हैं वह कोई भी खाली जमीन हो सकती है या फिर ऐसी जमीन जिस पर अभी काम चल रहा है कुछ बनाने का।
  2. व्यावसायिक– व्यवसायिक जिसे हम लोग अंग्रेजी में कमर्शियल कहते है इसके नाम से आप लोग को समझ में आ गया होगा कि यह वह बिल्डिंग होती है जो कि व्यापारी इस्तेमाल करते है अपना व्यापार करने के लिए जैसे कोई शॉपिंग मॉल हो गया या फिर राशन का दुकान हो उसे हम लोग कमर्शियल real-estate कहते है।
  3. आवासीय- आवासीय का इंग्लिश अर्थ होता है रेजिडेंशियल इसके बारे में आप लोगों को सब पता ही होगा कि वह इमारत जिसमें इंसान रहते हैं जैसे की आपका घर एक रेजिडेंशियल real-estate हो गया या फिर एक बिल्डिंग जिसमें ढेर सारी फ्लैट है आम आदमियों के रहने के लिए वह एक रेजिडेंशियल real-estate हो गया।

अब यह सारी बातें तो हो गई real-estate के बारे में अब चलिए जान लेते हैं की आपको रियल स्टेट में पैसे निवेश करने से पहले किन-किन चीजों का ध्यान रखना होगा ताकि बाद में आपके साथ कोई धोखा ना हो जाए।

किन चीजों का ध्यान रखे?

वह क्या चीज है जो आपको ध्यान में रखनी होंगी ताकि आपके पैसे real-estate के कारण डूबे ना।

जांच

एक सबसे जरूरी चीज, एक व्यक्ति को कोई भी जमीन या जायदात खरीदने से पहले करनी चाहिए वह है जांच पड़ताल। मतलब की आप जो जमीन खरीदने वाले है वह कहां पर है ? उसके बारे में कोई अफवाह है या नहीं है यह सब जांच पड़ताल करना बहुत आवश्यक होता है।

क्योंकि अगर आप यह जांच पड़ताल नहीं करेंगे और कोई गलत जमीन खरीद लेंगे तो पैसे बढ़ने की जगह पैसे डूब सकते है क्योंकि ज्यादातर क्या होता है कि लोग बेवकूफ बनाकर किसी दूसरे इंसान की जमीन बेच देते है। या फिर कोई जमीन जिस पर भूत प्रेत ऐसे अफवाह रहती है उसे कम दामों में बेच देते है। और अगर आप उस तरह की जमीन खरीदोगे तो आप उस जमीन पर भले ही कितना बढ़िया इमारत क्यों ना बना लो या घर क्यों ना बना लो आपको उसे बेचने में या फिर लीज पर देने में बहुत कठिनाई होगी।

कम पैसे वाले प्रॉपर्टी पर पैसे लगाए

अगर आप real-estate की दुनिया में नये हो तो पहले ज्यादा पैसे वाले जमीन या घरों को खरीदने से पहले आपको कम पैसे वाले जमीन और घर खरीदकर देखने चाहिए ताकि आपको पता चल जाए कि आप real-estate के माध्यम से पैसे कमा सकते हो कि नहीं क्योंकि एक real-estate से पैसे कमाना थोड़ा कठिन होता है क्योंकि आपको पहले उस जमीन की जांच करनी पड़ती है, आप जिस इंसान से खरीद रहे हो उसकी जांच पड़ताल करनी पड़ती है, उसके साथ ही साथ आपको मोलभाव भी करना होता है इसीलिए पहले आपको कम दाम वाले चीज खरीदकर अपने ज्ञान का अंदाजा ले लेना चाहिए।

खर्चे का ध्यान रखे 

बहुत बार क्या होता है कि लोग अति आत्मविश्वास में आकर ज्यादा खर्च कर देते है मतलब कि जितने उनके पास पैसे है उससे ज्यादा खर्च कर देते जिस कारण से उन्हें बाद में जाकर बहुत कठिनाई उठानी पड़ती है इसीलिए कोई भी real-estate में पैसा लगाने से पहले आप आपके पास कितने पैसे है उसे देख लीजिए या अगर आपने लोन लिया है तो उसके बारे में बढ़िया से सोच लीजिए कि आपको कितने समय वह लोन के पैसे चुकाने में लग सकते हैं और अगर आपको नुकसान होगा तो आप उसकी भरपाई कैसे कर सकते हैं।

इंसानों की परख 

जैसा कि मैंने बोला real-estate में पैसा कमाने से पहले आपको इंसानों के बारे में जानना बहुत आवश्यक है क्योंकि आप जिस इंसान से खरीद रहे हो। उसके बारे में आपको समझना पड़ेगा कि वह आपको सही जमीन बेच रहा है या नहीं या वह आपको बेवकूफ बना रहा है। या नहीं और अगर आप किसी व्यक्ति के साथ मिलकर एक जमीन खरीदने के बारे में सोच रहे हो तो उस व्यक्ति के बारे में भी पूरी जानकारी निकाल लीजिएगा ताकि बाद में जाकर आपको पछताना न पड़े।

स्थान

एक चीज जो Real-estate की दुनिया में सबसे ज्यादा मायने रखती है वह है स्थान, आपकी जो प्रॉपर्टी है वह कहां पर है वह बहुत मायने रखती है क्या वह शहर के बीचों-बीच है या फिर कोई कम सुविधा वाली जगह के पास है मतलब कि क्या वह बहुत अच्छी जगह पर स्थित है। जहां पर आने-जाने के रास्ते हैं, रेलवे स्टेशन नजदीक है या कोई ऐसी जगह पर है जहां पर ढंग के रास्ते नहीं है और आने-जाने की अच्छी सुविधा नहीं है क्योंकि ज्यादातर लोग अच्छे वातावरण में रहना पसंद करते है।

जहां वह आराम से कहीं भी आ जा सकते है इसीलिए अगर आप की प्रॉपर्टी शहर के बीचो-बीच है  तो वह ज्यादा दाम पर बिकेगी वहीं अगर आप की प्रॉपर्टी कोई ऐसी जगह पर है जहां पर अच्छी आने-जाने की सुविधा नही है और जहां लोगों को रहना पसंद नही है तो वह बहुत कम दाम में बिकेगी जिससे कि आपका नुकसान हो सकता है। इसलिए कोई भी जमीन या बिल्डिंग खरीदने से पहले उसकी स्थान के बारे में जान लीजिएगा।

भविष्य के बारे में सोचकर

Real-estate से पैसे कमाने के लिए एक चीज जो आपको ध्यान में रखनी है वह है भविष्य मतलब कि आप जिधर भी जमीन खरीद रहे हो या कोई प्रॉपर्टी खरीद रहे हो तो आगे जाकर उस जगह पर क्या कोई डेवलपमेंट होने वाला है या फिर आगे जाकर वहां पर कोई बुरा प्रभाव पड़ने वाला जैसे कि वहां पर कोई फैक्ट्री बनने वाली है या कोई ऐसी बिल्डिंग बनने वाले जहां बहुत शोर शराबा होता है क्योंकि यह चीज़ें बहुत मायने रखती है। Real-estate की दुनिया में क्योंकि ज्यादातर लोग ऐसी जगह पर रहना पसंद करते हैं जहां सारी सुविधा आसानी से मिल जाए जैसे कि जहां पर मॉल सामने हो, स्कूल सामने हो, अच्छी सड़क हो ताकि आने-जाने में कोई तकलीफ ना हो।

वहीं दूसरी तरफ अगर यह सारी सुविधाएं नहीं है और उसके साथ ही साथ वहां पर फैक्ट्री है और बहुत शोर शराबा है तो वहां बहुत कम लोग रहना पसंद करेंगे जिस कारण से आपके जमीन या प्रॉपर्टी के दाम घट सकते है और आप को मुनाफे की जगह नुकसान हो सकता है।

प्रदाय और मांग

कोई भी पैसे कमाने के तरीके में डिमांड और सप्लाई एक बहुत अहम किरदार निभाता है क्योंकि अगर किसी जगह पर रहने के लिए बहुत सारे लोगों की इच्छा है और वहां पर जगह कम है रहने के लिए तो उस जगह के प्रॉपर्टी के दाम बढ़ जाते है। वहीं दूसरी तरफ अगर किसी जगह पर बहुत कम लोग या लोगों को रहने की इच्छा नहीं है तो उस जगह की प्रॉपर्टी के दाम घट जाता है। जिधर जितना ज्यादा डिमांड होता है उधर उतने ज्यादा पैसे कमाने के संभावना होती है।

वहीं दूसरी तरफ जिधर जितना कम डिमांड रहता है वहां पर उतनी ही कम पैसे कमाने की संभावना रहती है और अगर हम लोग दूसरी तरफ सप्लाई के बारे में देखें तो अगर कोई जगह ढेर सारे घर और जमीन बिक रहे हैं तो वहां पर कम दामों में जमीन या घर बिकेंगे क्योंकि वहां पर सप्लाई ज्यादा है और डिमांड कम है वहीं दूसरी तरफ अगर किसी जगह पर बहुत कम जमीन और जायदाद बिक रहे है और ज्यादातर लोगों को वहां रहने का मन है तो वहां पर ज्यादा पैसे में जमीन और जायदाद बिकेंगे।

आस पड़ोस के लोग

आस-पड़ोस के लोगों का अच्छा होना बहुत जरूरी है ज्यादा पैसे कमाने के लिए क्योंकि अगर आस-पड़ोस के लोग अच्छे होंगे तो वहां पर लोगों का रहने का दिल करेगा वही अगर आस-पड़ोस के लोग अच्छे नहीं होंगे मतलब कि उनका व्यवहार अच्छा नहीं होगा तो वहां पर कम लोगों को रहने की इच्छा होगी।

हालत

जमीन या घर की हालत एक बहुत ही अहम भूमिका निभाती है उसके दाम बढ़ने या घटने में क्योंकि अगर जमीन या घर की हालत बहुत बढ़िया होगी तो ज्यादा लोग उसे खरीदने या रहने के लिए पैसे देने के लिए तैयार रहेंगे। वहीं दूसरी तरफ अगर जमीन या घर की हालत अच्छी नहीं होगी तो आपको अपने और ज्यादा पैसे खर्च करके उसको अच्छा बनवाना पड़ेगा और फिर बेचना होगा या फिर वहां पर कम लोग रहना पसंद करेंगे इसीलिए घर या जमीन खरीदने से पहले यह देख लीजिएगा कि उसकी हालत कैसी है वह कितनी पुरानी है और क्या उसमें कोई ऐसी चीज है जो लोगों को अपनी तरफ आकर्षित करेगी।

Real-estate से पैसे कैसे कमाए

रेंट के माध्यम से

Real-estate से पैसे कैसे कमाए उसका एक सबसे आसान उत्तर है रेंट के माध्यम से। अब रेंट के बारे में तो आप सबको पता ही होगा क्योंकि कभी ना कभी हम लोग भाड़े के घर पर तो रहे ही होंगे और उससे होने वाले आए के बारे में जानते होंगे। लेकिन फिर भी जिन्हें नहीं पता उनके लिए बता दूं कि अब इसमें क्या करना होता है कि अगर आपके पास कोई बढ़िया घर है या फिर कोई जमीन है तो आप उसे किसी ऐसे व्यक्ति को रहने के लिए या काम करने के लिए दे सकते हो।

जिसे उसकी जरूरत है और उसके बदले में उससे कुछ पैसे ले सकते हो लेकिन रेंट पर घर देने से पहले कुछ ऐसी चीजें है जो आपको जान लेनी चाहिए। जैसे कि भाड़ा कितना रखना है, दस्तावेज बनवाना है या नहीं और पुलिस वेरीफिकेशन करवाना है या नहीं। चलिए इन चीजों को थोड़ा विस्तार में जान लेते हैं

भाड़ा

भाड़ा कभी भी मार्केट वैल्यू से ऊपर मत रखिएगा मतलब कि आपके आस-पड़ोस के लोग कितना भाड़ा ले रहे है उससे ज्यादा भाड़ा मत रखिएगा क्योंकि अगर आप का भाड़ा उससे ज्यादा होगा तो आपको अपने घर को भाड़े पर देने में बहुत कठिनाई होगी क्योंकि अगर किसी व्यक्ति को कम पैसे में वैसा ही घर मिल रहा है तो वह क्यों ज्यादा पैसे देकर आपका घर लेगा। इसीलिए अपना भाड़ा तय करने से पहले आस-पड़ोस में क्या रेट चल रहा है वह जान लीजिएगा।

दस्तावेज़

कोई भी व्यक्ति को भाड़े पर अपनी संपत्ति देने से पहले एक वकील के माध्यम से दस्तावेज बनवाकर उसमें सारी शर्तें और नियम साफ-साफ लिख दीजिएगा कि हर महीने उसे कितना भाड़ा देना है। अगर कोई सामान टूटेगा या घर में कोई दिक्कत आएगी तो उसकी मरम्मत करवाने के लिए कौन पैसे देगा, कौन-कौन सी ऐसी चीजें हैं जो एक भाड़ेदार को आपके घर में करना सख्त मना है इत्यादि इन दस्तावेजों पर सारे शर्त और नियम अच्छे से लिखने के बाद अपने भाड़ेदार के हस्ताक्षर ले लीजिएगा।

भाड़ेदार

भाड़े पर किसी भी व्यक्ति को रखने से पहले उसकी जांच पड़ताल कर लीजिएगा कि वह कैसी जगह से आता है। कहीं वह कोई अपराधी तो नहीं यह सब जांच पड़ताल करना अनिवार्य है और यह करने के लिए आप पुलिस की सहायता ले सकते हो। इसके लिए आपको बस एक फॉर्म को भरकर सबमिट करना होगा। आप फॉर्म ऑनलाइन भर सकते हो या पुलिस स्टेशन में जाकर भर सकते हो।

तो यह थी कुछ ऐसी चीजें जो आपको भाड़े पर किसी भी व्यक्ति को रखने से पहले करनी होंगी।

दाम बढ़ने का इंतजार करके

एक दूसरा उपाय है इंतजार करके। अब आप सोच रहे हो कि इंतजार करके कोई पैसे कैसे कमा सकता है तो यहां इंतजार से मेरा तात्पर्य है जमीन या संपत्ति के दाम बढ़ने का इंतजार करके। मतलब की आप कोई भी जमीन या घर खरीदो या बना लो और उसके बाद फिर उस जगह के घर या जमीन के दाम बढ़ने का इंतजार करो जब दाम बढ़ जाएगा तो उस वक्त उसे बेचकर पैसे कमा लो।

दलाली 

दलाली को अंग्रेजी में ब्रोकरेज कहा जाता है अब इसमें क्या करना होता है कि अगर किसी व्यक्ति को कोई घर या जमीन खरीदनी है तो आप उससे वह खरीदने में मदद कर सकते हो और उसके बदले में कुछ पैसे चार्ज कर सकते हो। ज्यादातर लोग क्या करते हैं कि कोई जमीन या घर बेचने वाले व्यक्ति से बातचीत करके रखते हैं और ऐसे व्यक्ति को ढूंढते हैं जिसे उस जमीन या घर खरीदने की इच्छा हो और फिर उसे वह जमीन और घर खरीदने में मदद करते हैं और उसके बदले में पैसे ले लेते है कमीशन के रूप में।

रॉयल्टी

अब रॉयल्टी क्या होता है कि अगर आपके जमीन पर कोई ऐसी चीज मिली जो कि सरकार के काम की है या फिर किसी और व्यक्ति के काम की है तो वह व्यक्ति या सरकार आप की जमीन को कुछ समय के लिए आपसे उधार पर काम करने के लिए ले लेती है और जितने भी समय उसने आपके जमीन को इस्तेमाल किया उतने समय आपको बहुत पैसे देती है रॉयल्टी के रूप में। हो सकता अभी तक आपको रॉयल्टी क्या है वह समझ में नहीं आया होगा इसलिए चलिए Real-estate रॉयल्टी के माध्यम से पैसे कैसे कमाए, एक साधारण उदाहरण के जरिए समझते हैं।

मान लीजिए कि आपके जमीन में कोयला मिलता है तो सरकार आपके जमीन को कुछ समय के लिए आपसे मांग लेगी उससे कोयला निकालने के लिए और जितने समय तक सरकार उस जमीन को इस्तेमाल करेगी उतने समय तक वह आपको कुछ पैसे रॉयल्टी के रूप में देते रहेंगे।

Investment ग्रुप की सहायता लेकर 

यह एक सबसे आसान तरीका है real-estate से पैसे कमाने का क्योंकि इसमें ना ही आपको ज्यादा पैसों की आवश्यकता होती है और ना ही आपको खुद से कोई जमीन या जरजात खरीदना होता है। इसमें आपको कोई भी जमीनी या जायदाद का एक हिस्से का शेयर खरीदना होता है और उन शेयर्स के बदले में आपको डिविडेंड या इंटरेस्ट मिलता है। ठीक उसी तरह जिस तरह म्यूच्यूअल फंड में होता है जैसे कि REITs मतलब कि real estate investment trust इसमें क्या होता एक कंपनी होती है जो रियल एस्टेट खरीदती है लेकिन अपने पैसों से नहीं बल्कि ढेर सारे लोगों से थोड़ा-थोड़ा पैसा लेकर खरीदती है।

यह भी एक म्यूच्यूअल फंड की तरह होता है अब इसमें आप के फायदे यह रहते हैं कि आपको ज्यादा पैसों की आवश्यकता नहीं होती है। आप कम पैसे में एक बिल्डिंग का थोड़ा सा हिस्सा अपने नाम करवा सकते हो और उसके साथ ही साथ जो भी कागजात, टैक्स और भाड़े की झंझट है वह सब वह कंपनी संभालती है और आपको बिना ज्यादा दिमाग लगाएं और अपना वक्त दिए पैसे डिविडेंड और इंटरेस्ट के रूप में मिलते रहते है। आपका डिविडेंड या इंटरेस्ट उस चीज पर निर्भर करता है कि आपने कितना पैसा लगाया था मतलब आपने कितना हिस्सा खरीदा है।

एक खाली जमीन पर घर बनाकर 

एक सबसे आसान तरीका है real-estate से पैसे कमाने का वह है एक जमीन खरीदना और उस पर एक बढ़िया सा घर या कोई बिल्डिंग बनाना और उसके बाद फिर उसे किसी को बेच देना या फिर किसी को कुछ समय के लीज (lease) पर देना जिन लोगों को नहीं पता उन्हें बता दूं कि लीज का मतलब होता है किसी भी व्यक्ति को कोई भी संपत्ति कुछ समय के लिए इस्तेमाल करने के लिए देना।

इसे भी पढ़ें:

निष्कर्ष

भारत में ज्यादातर लोग अपना पैसा real-estate में निवेश करना सुरक्षित समझते है क्योंकि इसमें आपको ज्यादा रिटर्न मिलता हैं और ज्यादातर लोग आवासीय (residential) से ज्यादा व्यवसाय(commercial) real-estate में पैसा निवेश करना उचित समझते हैं। क्योंकि आवासीय से ज्यादा व्यवसाय मे रिटर्न रहते हैं। मतलब कि व्यवसायिक में सबसे बढ़िया रेट ऑफ रिटर्न रहता है। सुनने में यह बहुत आसान लगता है लेकिन real-estate में पैसा निवेश करना कोई बच्चों का खेल नहीं है।

इसके लिए आपको अपना बहुत समय, दिमाग और पैसा लगाना पड़ता है इसीलिए इसमें कदम रखने से पहले कोई छोटा मोटा real-estate में निवेश करके अपनी काबिलियत को जांच लेना आवश्यक रहता हैं और कभी भी अपनी काबिलियत से ज्यादा पैसे खर्च करना उचित नहीं रहता है। लेकिन हां एक बार जब आपको real-estate के तौर तरीके समझ में आ जाएगा कि किस तरह से यह काम करता है और कहां की जमीन खरीदने पर या कहां के बिल्डिंग में पैसा निवेश करने पर आपको फायदा होगा तो आप आराम से इससे लाखों रुपए कमा सकते हो।

FAQ’s

Q.1 क्या REIT’s सुरक्षित है?

Ans- REITs एक ऐसी कंपनी है जो कि real-estate में पैसे निवेश करती है ढेर सारे इन्वेस्टरों से थोड़ा-थोड़ा पैसा लेकर इसीलिए इसके द्वारा आप कम पैसों मे real-estate में निवेश कर सकते हो आपको लाखों या करोड़ों रुपए लगाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी आप इसमें 10,000 रुपए लगाकर निवेश कर सकते हो और इसकी खास बात है यह है कि अगर आपको अचानक पैसों की आवश्यकता पढ़ती है तो आप इसको बेचकर एक या 2 दिन के अंदर अपने पैसे वापस ले सकते हो। REITs को अपना 90% प्रॉफिट डिविडेंड के रूप में बांटना अनिवार्य रहता और उसके साथ ही साथ REITs सेबी (SEBI) द्वारा कंट्रोल किया जाता है इसीलिए ये सुरक्षित माना जाता है।

Q.2 क्या किसी भी भाड़े दार को रखने से पहले उसका पुलिस वेरिफिकेशन करवाना आवश्यक होता है?

Ans- कोई भी भाड़ेदार को रखने से पहले उसका पुलिस वेरिफिकेशन करवाना अनिवार्य होता है और अगर आप अपने भाड़े द्वारका पुलिस वेरिफिकेशन करवाने में असमर्थ होते हो तो आप को या तो पेनल्टी के रूप में पैसे देने होंगे या फिर आप को जेल भी हो सकती हैं। पुलिस वेरिफिकेशन करवाना अनिवार्य इसलिए होता है क्योंकि अगर आप पुलिस वेरिफिकेशन करवा दोगे तो उससे यह पता चल जाएगा कि जो भी व्यक्ति आपके यहां भाड़े दार बनकर आया है। वह कोई अपराधी नहीं है जिससे कि आपकी और आपके आस-पड़ोस के लोगों की सुरक्षा कायम रहेगी पुलिस वेरिफिकेशन करवाने के लिए या तो पुलिस स्टेशन जा सकते हो या फिर ऑनलाइन फॉर्म भर सकते हो।

Q.3 क्या कोई भी व्यक्ति ब्रोकर बन सकता है?

Ans- नहीं कोई भी व्यक्ति ब्रोकर नहीं बन सकता क्योंकि एक ब्रोकर बनने के लिए आपको लाइसेंस की आवश्यकता पड़ेगी जो कि आप ऑनलाइन जाकर बनवा सकते हो आपको रेरा (rera-real estate regulatory authority) के वेबसाइट पर जाना है और वहां पर अपना रजिस्ट्रेशन करवाना है आपको रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए फोन नंबर, फोटो, नाम, पता, पैन कार्ड, आधार कार्ड इत्यादि जैसे दस्तावेज सबमिट करने पड़ेंगे और अपना लाइसेंस बनवाने के लिए कुछ पैसे भी देने पड़ेंगे ज्यादातर लाइसेंस फॉर्म सबमिट करने के 30 दिन के बाद मिल जाते हैं। एक लाइसेंस की वैलिडिटी 5 साल तक की रहती है और लाइसेंस बनवाना अनिवार्य इसलिए होता है ताकि कोई भी आम आदमी किसी भी तरह के धोखे का शिकार ना हो।

PaiseKaiseKamayen
error: Alert: Content selection is disabled!!