Pets के सामान बेचकर पैसे कैसे कमाए

आज के लोग ज्यादातर अकेले रहते हैं और इस अकेलेपन को दूर करने के लिए वह जानवर पालते है, जो की कोई गलत नहीं है। ये Pets अकेलापन दूर करने के साथ-साथ उनके मनोरंजन के भी काम आते हैं और इसीलिए ढेर सारे लोग अपने घर में पालतू जानवर रखते हैं। जिसमें कि ज्यादातर कुत्ते और बिल्ली होते हैं। लेकिन कुत्ते और बिल्लियों के अलावा तोते, खरगोश, मछली, चूहे, चिड़ियां, कछुए इत्यादि जैसे जानवर भी रखना बहुत आम बात है। इन जानवरों को अपने घर में रखने वाले लोग इनकी अच्छे से देखभाल करने के लिए जानवरों के बने हुए अलग सामान खरीदते हैं।

जैसे कि जानवर को बंद रखने के लिए पिंजरा, पालतू जानवरों के खाने के लिए जानवरों वाला खाना, पालतू जानवरों को नहलाने के लिए नहाने का साबुन और शैंपू, पालतू जानवरों को घुमाने ले जाने के लिए पट्टे इत्यादि और आज के इस आर्टिकल में मैं आपको Pets के सामान बेचकर पैसे कैसे कमाए के बारे में बताने वाली हूं।

Pets के सामान बेचकर पैसे कैसे कमाए
Pets के सामान बेचकर पैसे कैसे कमाए

Pet के सामान में कौन-सी चीजें आती हैं?

यह जानने से पहले कि आप पालतू जानवर के सामान बेचकर पैसे कैसे कमा सकते हैं। आपको यह जानना होगा कि आप किस तरह के सामान बेच सकते हैं। इसीलिए चली सबसे पहले जानते हैं कि आप अगर पालतू जानवर के सामान का व्यापार शुरू करने वाले हो तो आपको किन चीजों की व्यवस्था करनी होगी।

खाना

जानवरों के सामान में सबसे ज्यादा उपयोग किया जाने वाला सामान है जानवरों का खाना जो कि लगभग से सारे पालतू जानवर के मालिक खरीदते हैं। अब हो सकता है आप में से कुछ लोगों के दिमाग में यह सवाल हो कि पालतू जानवर तो घर का भी खाना खाते हैं तो मालिक बाहर का खाना क्यों खरीदते हैं? तो मैं आपको बता दूं कि जो पालतू जानवर का खाना होते हैं। वह घर के खाने से अलग होता है क्योंकि कुछ घर के खाने ऐसे होते हैं।

 जो कि पालतू जानवर को नुकसान दे सकते हैं। इसके अलावा जो घर का खाना होता है वह पालतू जानवर के डाइट से मिलता जुलता नहीं है। वहीं दूसरी तरफ जो पालतू जानवर के लिए अलग से बनाया हुआ खाना रहता है। वह उनके डाइट का बखूबी ध्यान रखता है। क्योंकि उनके खाने में न्यूट्रिशन तो होता ही है पर उसके साथ ही साथ वह खाना जानवरों को हरजा नहीं करता है और आसानी से पच भी जाता है। जिस कारण से जानवरों के मालिक ज्यादातर उनके लिए अलग से खाना खरीदना पसंद करते हैं।

पट्टा

जैसा कि मैंने अभी आपको बताया था कि ज्यादातर पालतू जानवर में कुत्ते और बिल्लीआ रहे ते हैं। जिन्हें बाहर घुमाना बहुत आवश्यक रहता है और उन्हें बाहर घूमाते वक्त वो किसी दूसरे व्यक्ति को जाकर काट ना ले या फिर कहीं भाग ना जाए। इस वजह से उनके मालिक उनके गले में पट्टा बांधकर घूमते हैं और इसीलिए पालतू जानवर के सामान से पैसे कमाने के लिए आपको उनके गले में बांधने वाला पट्टा रखना बहुत जरूरी है। क्योंकि यह भी बहुत ज्यादा बिकने वाला पालतू जानवरों का सामान है।

पिंजरा

बहुत सारे ऐसे पालतू जानवर होते हैं जिनके लिए पिंजरे खरीदे जाते हैं। जैसे कि तोता या किसी और प्रकार की चिड़िया, खरगोश, चूहे इत्यादि। क्योंकि यह जो पालतू जानवर होते हैं। वह ज्यादातर छोटे या उड़ने वाले होते है। जिस कारण से इनके भाग जाने का खतरा रहता है। इसके अलावा यह घर में इधर उधर जाकर कोई तबाही ना मचाए या इधर उधर जाकर छिप ना जाए। इसलिए भी इन्हें पिंजरे में रखा जाता है और अगर आपको पालतू जानवर के सामान से पैसे कमाने हैं तो आप इन सामानों में पिंजरे को भी बेच सकते हैं।

नहाने का सामान

जब भी हम इंसान नहाने जाते हैं तो साबुन और शैंपू जैसे सामानों का उपयोग करते हैं। ठीक इसी प्रकार जब पालतू जानवर को नहलाया जाता है तो उनके लिए भी उनके अलग शैंपू और साबुन का इस्तेमाल किया जाता है। क्योंकि जो इंसानों वाले शैंपू और साबुन रहते है। वह जानवरों के लिए हानिकारक हो सकते हैं। जैसे अगर आप पालतू कुत्ते को इंसान वाले शैंपू से नहलाएंगे तो उससे उन पर बैक्टीरिया के आक्रमण का खतरा रहता है। इसके अलावा जो उनकी त्वचा है। वह भी सुखी जैसी महसूस होने लगती है। इसीलिए पालतू जानवरो को नहलाने के लिए अलग शैंपू और साबुन का उपयोग किया जाता है।

बर्तन

जिस तरह से हम लोग खाने के लिए स्टील या चीनी मिट्टी के बर्तन का उपयोग करते हैं। ठीक उसी प्रकार पालतू जानवर को भी खाना देने के लिए प्लास्टिक, स्टील इत्यादि जैसे पदार्थों से बने हुए बर्तनों का उपयोग किया जाता है। जानवरों के बर्तन में पानी, दूध इत्यादि जैसे खाने के सामान को देने के लिए कटोरी, पालतू जानवर के खाना देने के लिए प्लेट या ट्रे जैसे बर्तनों का उपयोग किया जाता है। इसीलिए अगर आपको पालतू जानवर के सामान बेचकर पैसे कमाने हैं तो आपको पालतू जानवर को खाना खिलाने की कटोरी, ट्रे, प्लेट इत्यादि जैसे बर्तन रखने होंगे।

सोने का बिस्तर

जब भी कोई व्यक्ति कोई जानवर खरीदता है उसे अपने घर में पालने के लिए तो वह व्यक्ति अपने जानवर को अच्छे से सुलाने के लिए उसका बिस्तर भी खरीदता है। जिसमें कि ज्यादातर कुत्ते या बिल्ली जैसे जानवरों के बिस्तर होते हैं। अब हो सकता है यह पढ़कर आपके दिमाग में यह सवाल आया हो कि कुत्ते या बिल्ली जैसे जानवर तो कहीं भी सो जाते हैं।

चाहे वह फर्श हो या फिर इंसान के खुद का बिस्तर तो फिर उनके लिए अलग बिस्तर क्यों खरीदा जाता है? तो मैं आपको बता दूं कि जैसे हम इंसानों को आराम से सोने के लिए एक बिस्तर की आवश्यकता पड़ती है। ठीक उसी तरह जानवरों को भी अच्छी नींद और आराम से सोने के लिए एक अच्छी बिस्तर की आवश्यकता होती है। जिस कारण से पालतू जानवर के मालिक अपने जानवरों का अच्छा से ध्यान रखने के लिए एक अलग बिस्तर खरीदते हैं।

खिलौने

पालतू जानवर छोटे बच्चे से कम नहीं होता है कहने का तात्पर्य यह है कि जिस तरह से छोटे बच्चों को खिलौनों से खेलना पसंद होता है। ठीक उसी प्रकार पालतू जानवरों को भी खिलौने से खेलना बहुत पसंद होता है। जिस कारण से पालतू जानवर के मालिक अपने जानवरों को खुश करने के लिए या फिर उन्हें व्यस्त रखने के लिए तरह-तरह के खिलौने खरीदते हैं। जैसे कि कुत्ते के लिए हड्डी के आकार का खिलौना, बौल इत्यादि। बिल्लियों के लिए हाइड एंड सीक और लिफ्टिंग बॉक्सेस वाले पजल।

कंघी

कुत्ते, बिल्ली इत्यादि जैसे जो पालतू जानवर रहते हैं उनमें बहुत सारे बाल रहते हैं और जब भी वह जानवर अपने मालिक के नजदीक जाते हैं तो अपने मालिक के कपड़ों में, बिस्तर पर या फिर घर में बाल गिरा देते हैं। जिस कारण से पालतू जानवर के मालिक अपने जानवरों के टूटे बालों को उनके बदन से हटाने के लिए कंघी का इस्तेमाल करते हैं। ताकि पालतू जानवर के बाल इधर-उधर गिरने की जगह पहले ही हट जाए। इसके अलावा कंघी करने से जो पालतू जानवर है उनके खून का सरकुलेशन भी अच्छा होता है और पालतू जानवर के बाल और उगते हैं।

कपड़े

आज के जमाने के पालतू जानवरों को इंसान जैसे कपड़े पहन कर घर में रखना या फिर बाहर घुमाना बहुत आम बात हो गई है क्योंकि पालतू जानवर के मालिक अपने जानवरों को अपने घर का हिस्सा मानते हैं और उनकी देखभाल में किसी भी तरह की कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं। इसीलिए वह अपने जानवरों के लिए तरह तरह के कपड़े खरीदते हैं जिसमें की शर्ट, हुडी, स्वेटर, रेनकोट, जैकेट इत्यादि जैसे कपड़े शामिल है।

ब्रश

जिस प्रकार हम लोग रोज सुबह उठकर अपने दातों को साफ करने के लिए ब्रश का इस्तेमाल करते हैं। ठीक उसी प्रकार पालतू जानवर के मालिक अपने जानवरों के दातों को साफ रखने के लिए उनके दातों के लिए ब्रश खरीदते हैं। 

कौन से जानवर के लिए कैसे सामान का उपयोग होता है?

मैंने अभी आपको बताया था कि किस तरह से पालतू जानवर में अलग-अलग तरह के जानवर रहते हैं जैसे कि कुत्ते, बिल्ली, तोता, खरगोश इत्यादि और इन सारे जानवरों के लिए अलग प्रकार के सामान का उपयोग किया जाता है। जिस कारण से अगर आप किसी एक जानवर या फिर कुछ जानवरों के सामान को बेचना चाहते हो तो आपको किस तरह के जानवर के लिए किस तरह के सामान का उपयोग किया जाता है यह पता होना चाहिए।

कुत्ता

कुत्ता सबसे ज्यादा पाला जाने वाला जानवर है क्योंकि एक तो यह वफादार होता है और दूसरा यह इंसानों के साथ खेलना बहुत पसंद करता है जिस कारण से ज्यादातर लोग पालतू जानवर के रूप में कुत्ता पालते हैं। एक कुत्ते को पालने के लिए कुत्ते का बिस्तर, कंगी, खाने का कटोरा, कुत्ते को घुमाने और बांधने के लिए पट्टा, कुत्ते को नहलाने के लिए साबुन और शैंपू, कुत्ते के खेलने के खिलौनाकुत्ते का खाना इत्यादि जैसे सामान खरीदने होंगे।

बिल्ली

वैसे तो हमारे देश भारत में कुछ लोग मानते हैं कि घर में बिल्ली रखना बहुत अशुभ होता है। लेकिन फिर भी बहुत लोग अपने घर में बिल्ली रखते हैं क्योंकि एक तो बिल्ली दिखने में बड़ी प्यारी होती है और दूसरा वह बहुत शांत होती है और उन्हें इंसान के गोदी में बैठकर अपने आपको से सहलवाना बहुत अच्छा लगता है। जिस कारण से बहुत सारे लोग बिल्ली को अपने घर का सदस्य जैसा मानते हैं और उसे ढेर सारे प्यार और अपनेपन के साथ रखते हैं।

एक बिल्ली को पालने के लिए आपके पास लीटर बॉक्स, बक्सा जिसे हम लोग अंग्रेजी में crate कहते हैं जो कि बिल्ली को कहीं भी ले जाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। कंघी, बिल्ली का खाना, बिस्तर, बिल्ली के खाने का कटोरा, बिल्ली के नहाने का साबुन और शैंपू, बिल्ली को बाहर ले जाने या फिर घर में बांधने के लिए पट्टा, खिलौना, स्क्रैचिंग पोस्ट जैसे सामान खरीदने होंगे।

खरगोश

बहुत सारे ऐसे लोग होते हैं जिन्हें अपने रोजाना जिंदगी से ज्यादा समय नहीं मिलता लेकिन फिर भी वक्त किसी जानवर को पालना चाहते तो वैसे लोग ज्यादातर खरगोश पालते क्योंकि ना ही खरगोश को बाहर ले जाकर घुमाना होता है और ना ही इनमें ज्यादा खर्चा होता है। एक खरगोश को पालने के लिए एक व्यक्ति के पास लीटर बॉक्स, खाना, crate, ताजी सब्जी, खिलौने, सूखी घास, खाने कि कटोरी इत्यादि जैसे समान होने चाहिए।

मछली

यह माना जाता है कि जो लोग मछली पालते हैं वह शांत रहते हैं क्योंकी रोजाना मछली को देखने से एक व्यक्ति अपने निजी जिंदगी की चिंता से मुक्ति पा सकता है इसके अलावा मछली को पालने के लिए जिस फिश टैंक का उपयोग किया जाता है वह घर के सजावट के सामान के जैसा उपयोग किया जाता है क्योंकि उसके अंदर तरह-तरह के पौधे, गिट्टी, लाइट इत्यादि जैसे सामान लगाए जाते हैं जो कि घर को सुंदर बनाने में मदद करते हैं। एक मछली पालने वाले व्यक्ति के पास फिश टैंक, मछली का खाना, सुंदर गिट्टी, नकली या असली पौधे, मछली के पानी को साफ करने के लिए या मछली को पकड़ने के लिए जाली, मछली के पानी को ज्यादा समय तक शुद्ध रखने के लिए ड्रॉप, लाइट, फिल्टर इत्यादि जैसे सामान जरूरी रहते है।

कछुआ

कछुए ज्यादातर शांत रहते हैं और बड़े प्यारे दिखते हैं इसके साथ ही साथ उनके बाल झड़ने का भी कोई खतरा नहीं रहता है और वह बाकी जानवरों से ज्यादा समय तक जीवित रहते है जिस कारण से जिन लोगों को जानवरों के बाल से एलर्जी है या फिर ज्यादा समय तक अपने पालतू जानवर का ख्याल रखना है वह लोग कछुए को एक पालतू जानवर के रूप में रखते हैं। कछुए को रखने वाले लोग ज्यादातर खाना, कटोरी, Heat Lamp and UV Light, बालू और मिट्टी, पिंजरा इत्यादि जैसे सामानों का उपयोग करते हैं।

तोता

बहुत लोग कुत्ता, बिल्ली, खरगोश इत्यादि के अलावा तोता पालना भी पसंद करते हैं क्योंकि तोता बहुत होशियार होता है और उसे लोगों से मिलना भी बहुत पसंद होता है इसके अलावा तोते खुद को साफ रखना भी पसंद करते हैं जिस कारण से उनके मालिक का काम आसान हो जाता है। एक तोते के मालिक को अपने तोते को रखने के लिए पिंजरा खरीदना होता है इसके अलावा तोते के खेलने के लिए खिलौना, खाना खाने के लिए कटोरी जैसी चीजें रखनी होती है।

Pet के सामान कहाँ बेच सकते हैं?

पहले तो जानवरों के सामान बेचने के लिए दुकान एकमात्र उपाय था पर अब बढ़ती प्रगति के साथ किसी भी तरह के सामान को बेचने के लिए ऑनलाइन भी एक साधन हो गया है इसीलिए चलिए आज के मेरे इस आर्टिकल pet के सामान बेचकर पैसे कैसे कमाए के जरिए जानते हैं कि आप किस तरह से दुकान के सहारे या फिर ऑनलाइन वेबसाइट की मदद से Pet के सामान बेच सकते हैं।

ऑफलाइन

जब यह इंटरनेट का जमाना नहीं था तब सारे व्यापार ऑफलाइन होते थे। मतलब कि या तो वह दुकान के सहारे होते थे या फिर घर से सामान बेचकर होते थे। लेकिन इंटरनेट के आने के बाद लोगों को ऑफलाइन के साथ-साथ ऑनलाइन भी सामान बेचने की सुविधा मिल गई। जिसके बारे में हम लोग आगे चलकर विस्तार में समझेंगे अभी चलिए जानते हैं कि आप किस तरह से ऑफलाइन यानी की दुकान और घर से सामान बेचकर पैसे कमा सकते हैं।

दुकान

पालतू जानवरों के सामान बेचने के लिए अगर आप दुकान का उपयोग करना चाहते हो तो उसके लिए आपको तीन तरह के दुकान मिल सकते हैं। जिसमें एक तो आपकी खुद की दुकान होगी दूसरी भाड़े पर दुकान ले सकते हैं और तीसरी आप किसी दूसरे व्यक्ति के दुकान में सामान बेच सकते हैं। चलिए इन तरीकों के बारे में थोड़ा विस्तार में समझते हैं।

  • खुद की दुकान- खुद की दुकान खोलना थोड़ा सा कठिन कार्य होता है। क्योंकि इसमें आपको सारा पैसा खुद ही निवेश करना होता है जो कि बहुत ही जोखिम भरा होता है। क्योंकि अगर आप की दुकान नहीं चलती है तो आप को बहुत नुकसान उठाना पड़ सकता है। लेकिन अगर आपकी दुकान चल जाती है तो उसका फायदा यह होता है कि आपके कुछ रेगुलर कस्टमर हो जाते हैं। मतलब कुछ ऐसे लोग जिनको आप की दुकान के सामान अच्छे लगते हैं और वह अपने सारे पालतू जानवरों के समान आपकी दुकान से लेते हैं। इसके अलावा आपको दर-दर की ठोकरें नहीं खानी होती हैं और आपकी एक निश्चित आय भी रहती है।
  • भाड़े की दुकान- खुद की दुकान खोलने के लिए आपको ढेर सारे पैसे निवेश करने होते हैं। जो कि ज्यादा लोग नहीं कर पाते हैं लेकिन फिर भी उन्हें दुकान में ही सामान बेचने का मन रहता है तो वह लोग किसी दुकान को भाड़े पर ले सकते हैं और उस दुकान में अपना सामान बेच सकते हैं। भाड़े पर दुकान लेने का फायदा यह होगा कि आप कम खर्च में अपनी दुकान चला पाओगे। क्योंकि इसमें आपको अपने दुकान का भाड़ा देना होगा जो कि ज्यादा नहीं होगा। लेकिन इसका नुकसान यह होगा कि उस दुकान का मालिक जब भी चाहेगा। आपको उस दुकान से निकाल सकता हैं और एक अच्छी भाड़े की दुकान ढूंढना थोड़ा कठिन होता है।
  • किराये की दुकान- अब तक तो मैंने खुद की और भाड़े की दुकान पर सामान बेचने के बारे में बताया। अब अगर आपको खुद की और भाड़े की दोनों ही तरह की दुकानें नहीं खोलनी है तो आप क्या कर सकते हो कि किसी पहले से चल रही दुकान को माल सप्लाई करके पैसे कमा सकता हो। कहने का अर्थ यह है कि अगर आप किसी बढ़िया पालतू जानवरों के सामान बेचने वाले व्यापारी को जानते हो तो आप उस व्यापारी से कम दाम में सामान खरीद कर किसी लोकल पालतू जानवरों के सामान बेचने वाले दुकानदार को वह सामान बेचकर कमीशन कमा सकते हो‌।
  • घर से– अगर आपको लगता है कि आपके घर में थोड़ी ज्यादा जगह है जहां पर आप पालतू जानवरों के बेचने वाले सामान रख सकते हो तो आप किसी सप्लायर से सामान खरीद कर अपने घर से ही समान बेच सकते हो। लेकिन इसका नुकसान यह होगा कि अगर आपका घर मेन रोड से दूर है या बहुत कोने में है तो आपको जल्दी ग्राहक नहीं मिलेंगे।

ऑनलाइन

अब तक तो मैंने आपको ऑफलाइन 3 तरीके बताएं अपने सामान को बेचने के अब चलिए जानते हैं कि अगर आप ऑनलाइन सुविधा का लाभ उठाना चाहते हैं तो आप कौन से तरीकों का उपयोग करके अपने सामान बेच सकते हैं।

  • खुद की वेबसाइट– किसी भी सामान को बेचने का एक थोड़ा कठिन पर फायदेमंद तरीका खुद की वेबसाइट पर सामान बेचना होता है क्योंकि यहां पर आपको नाहीं अपने सामान की लिस्टिंग कराने के पैसे देने होते है और ना ही किसी तरह की कमीशन देनी होती हैं लेकिन इसका नुकसान यह होता है कि आपको सारे चीज को खुद ही मैनेज करना होता है मतलब की सामान को लाना, उसकी पैकेजिंग करना, उसे ग्राहक के घर तक पहुंचाना सब चीज खुद ही देखना होता है।
  • जानी-मानी वेबसाइट– जैसा कि मैंने अभी बताया खुद की वेबसाइट से सामान बेचना थोड़ा कठिन है इसलिए आप कोई पहले से वेल इस्टैबलिश्ड वेबसाइट का इस्तेमाल कर सकते हैं जैसे कि एमेजॉन।
  • फेसबुक और इंस्टाग्राम– इस इंटरनेट के जमाने में ज्यादातर लोग सोशल मीडिया पर एक्टिव रहते हैं। जिस कारण से अगर आप सोशल मीडिया साइट जैसे कि फेसबुक, इंस्टाग्राम इत्यादि का उपयोग करना चाहते हैं। अपने सामान को बेचने के लिए तो वह भी बहुत ही फायदेमंद होगा। इसके अलावा आप इन साइटों को अपने व्यापार का प्रचार करने के लिए भी उपयोग कर सकते हैं‌।

Pet के सामान बेचकर पैसे कमाने के फायदे और नुकसान क्या है?

अब तक तो आपको यह समझ में आ गया होगा कि pet के सामान बेचकर पैसे कैसे कमाए अब चलिए जानते हैं कि अगर आप पालतू जानवर यानी कि pet के सामान बेचना चाहते हैं तो आपको किस तरह का फायदा होंगा और किस तरह का नुकसान होगा।

फायदा

अगर आप पालतू जानवरों के सामान बेचकर पैसा कमाना चाहते हो तो आपको ढेरों फायदे हो सकते हैं। जिसमें से मैं आपको 3 सबसे अच्छे फायदे विस्तार में बताती हूं।

  • कम पैसों में व्यापार- एक सबसे बढ़िया फायदा पालतू जानवरों के सामान बेचकर पैसे कमाने का यह है कि आपको इस व्यापार में ज्यादा पैसे निवेश करने की आवश्यकता नहीं होगी। क्योंकि अगर आपके पास कम पैसे हैं तो आप कुछ चीजों का व्यापार कर सकते हैं। जैसे कि खाना, खिलाना लेकिन अगर आपके पास ज्यादा पैसे हैं तो आप खाना, खिलौना, कटोरी, कपड़े इत्यादि जैसे बाकी सामानों का भी व्यापार कर सकते हैं। जिस कारण से यह दोनों तरह के व्यक्तियों के लिए फायदेमंद चुनाव है।
  • आसान- पालतू जानवरों के सामान का व्यापार करना कोई ज्यादा कठिन काम नहीं होता है। क्योंकि इसमें आपको किसी सप्लायर से बस सामान खरीदना है और उस सामान को अपनी दुकान या ऑनलाइन साइट की मदद से लोगों को बेचना है। जो करने के लिए आपके पास नाहीं ज्यादा कला की आवश्यकता है और ना ही ज्यादा जानकारी की।
  • ज्यादा प्रॉफिट- एक खास बात पालतू जानवरों के सामान का व्यापार करने की यह है कि इसमें आपको प्रॉफिट मार्जिन बहुत मिलता है मतलब कि अगर आप पालतू जानवरों के खाना बेच रहे हो तो उसमें आपको 40% से 50% तक का प्रॉफिट मार्जिन मिलता है। इसके अलावा अगर आप खिलौने बेच रहे हो तो उसमें भी आपको कुछ खिलौनों पर 70% तक का प्रॉफिट मार्जिन मिलता है जोकि बहुत फायदेमंद है।

नुकसान

अब तक तो आपने पालतू जानवरों के सामान बेचकर पैसे कमाने के 3 सबसे अच्छे फायदे जान लिए अब चलिए वह तीन नुकसान जानते हैं जो कि आपको पालतू जानवर के सामान बेचने से होंगे।

  • ज्यादा लोग- जीस भी व्यापार में ज्यादा मुनाफा होता है। उस व्यापार में कॉन्पिटिशन तो रहता ही है और इसीलिए पालतू जानवरों के सामान बेचने वाले व्यापार में भी आपको ढेर सारे कंपटीशन का सामना करना पड़ेगा जिस कारण से आपको इस फील्ड में अपने व्यापार को जमाने में हो सकता है ज्यादा समय लग जाए।
  • अकेले काम- अगर आप ज्यादा पैसे खर्च करके इस व्यापार को नहीं करना चाहते हो यानी कि आप दुकान नहीं खोलना चाहते हो बस ऑनलाइन व्यापार करना चाहते हो तो आपको सारा काम अकेले करना पड़ेगा। जिस कारण से इस व्यापार को संभालना आपके लिए थोड़ा कठिन हो जाएगा।
  • कठिनाई- अभी जैसा कि मैंने बताया की आपको ढेर सारे कंपटीशन का सामना करना पड़ेगा। जिस कारण से आपको अपने ग्राहकों का विश्वास जीतने में कठिनाइ हो सकती है। क्योंकि बहुत सारे ऐसे ग्राहक होंगे जो पहले से ही दूसरे दुकान से या ऑनलाइन स्टोर से सामान खरीद रहे होंगे और उन ग्राहकों को अपना रेगुलर कस्टमर बनाने के लिए आपको बहुत मेहनत करनी पड़ेगी।

इसे भी पढ़ें:

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल Pet के सामान बेचकर पैसे कैसे कमाए के जरिए मैंने आपको यह तो बता दिया कि आप कुत्ते, बिल्ली, मछली, कछुआ, खरगोश इत्यादि जैसे पालतू जानवरों के सामान जिसमें कंघी, खाना, कटोरी, बिस्तर, लीटर बॉक्स, फिश टैंक, शैंपू इत्यादि जैसे समान आते हैं। उनका व्यापार करके पैसे कमा सकते हैं और इसके साथ ही साथ मैंने आपको यह भी बताया कि अगर आप पालतू जानवरों के सामान का व्यापार करेंगे तो किस तरह से आप कम पैसे में आसानी से ज्यादा पैसे कमा पाएंगे।

क्योंकि पालतू जानवरों के सामान जैसे कि खिलौने, खाने इत्यादि में बहुत ज्यादा प्रॉफिट मार्जिन होता है और अगर आप पालतू जानवरों के समान का व्यापार करेंगे। तो किस तरह से आपको ग्राहकों का विश्वास जीतने जैसे कठिनाई के साथ-साथ ढेर सारे कंपटीशन का भी सामना करना पड़ेगा। जो कि थोड़ा मुश्किल होगा। इतना पढ़कर आपको यह तो समझ में आ गया होगा कि आप इस व्यापार को करने में सक्षम है या नहीं।

FAQ’S

Pet के सामान का व्यापार फायदेमंद रहता है?

क्योंकि आज के लोग अपने पालतू जानवरों को अपने घर का एक हिस्सा मानते हैं। इसलिए वे अपने पालतू जानवरों के ऊपर पैसे खर्च करने से पहले ज्यादा सोचते नहीं है और अपने जानवरों के कंफर्ट का ज्यादा ध्यान रखते हैं। इसके अलावा पालतू जानवरों के सामान बेचने वाले व्यापारियों का प्रॉफिट मार्जिन बहुत होता है और पालतू जानवर के सामान बेचने वाले व्यापारी ढेर सारे सामानों का व्यापार एक साथ कर सकते हैं। जिस कारण से इन्हें हर सामान के प्रॉफिट मार्जिन से फायदा होगा। इसीलिए यह कहना गलत नहीं होगा कि पालतू जानवरों के सामान या पालतू जानवरों के व्यापारियों को आज के समय में और आने वाले कल में अपने व्यापार से बहुत फायदा हो सकता है।

क्या Pet के सामान बेचने के लिए लाइसेंस की आवश्यकता होती है?

आप में से जो लोग पालतू जानवर को और पालतू जानवर के सामान बेचने की दुकान खोलने वाले हैं उन लोगों के मन में यह सवाल जरूर आया होगा कि क्या उन्हें अपने दुकान के लिए सरकार द्वारा किसी तरह के लाइसेंस की आवश्यकता होगी या नहीं। तो मैं आपको बताती हूं कि अगर आपको पालतू जानवर और पालतू जानवर के सामान बेचने हैं तो उसके लिए आपको अपने राज्य के एनिमल वेलफेयर बोर्ड से सर्टिफिकेट ऑफ रजिस्ट्रेशन लेना होगा लेकिन एक बात का ध्यान रहे कि यह सर्टिफिकेट केवल 18 साल के ऊपर के उम्र के व्यक्ति को मिलेगा जो कि मानसिक रूप से ठीक है।

Pet के कौन से सामान को बेचकर ज्यादा पैसे कमाया जा सकता है?

आज के इस आर्टिकल Pet के सामान बेचकर पैसे कैसे कमाए के जरिए मैंने आपको कटोरी, पट्टा, खाना, बिस्तर, साबुन, शैंपू इत्यादि जैसे पालतू जानवरों के सामान के बारे में बताया, जो कि ज्यादातर व्यक्ति खरीदते हैं। इन सामानों की लिस्ट पढ़ने के बाद आपके मन में यह सवाल उठा होगा कि आप इनमें से कौन से सामान से सबसे ज्यादा मुनाफा कमा सकते हैं तो मैं आपको बता देती हूं कि अगर आप पालतू जानवर के खाना बेचकर पैसे कमाना चाहते हो तो उसमें आपको 40% से 50% तक का प्रॉफिट मार्जिन मिलता है। वही चबाने वाले खिलौने जैसे कि कुत्ते के हड्डी के आकार वाला खिलौना के लिए आपको 70% तक का प्रॉफिट मार्जिन मिल सकता है।

PaiseKaiseKamayen
error: Alert: Content selection is disabled!!