MBA चाय वाला की तरह पैसे कैसे कमाए 

मोदी जी चाय बजते थे और आज भारत के प्रधान मंत्री हैं। भारत के MBA चाय वाला यह नाम हाल फिलहाल में आपने बहुत सुना होगा और कोई चाहता कि MBA चाय वाला की तरह पैसे कैसे कमाए, क्योंकि यह बहुत ही चर्चित नाम है इसकी शुरुआत 2017 में प्रफुल्ल बिलौरे ने की थी। प्रफुल्ल का सपना था MBA करके एक बढ़िया नौकरी पाना, परंतु CAT के एग्जाम में तीन बार असफल होने के बाद उन्होंने अपना MBA का सपना बीच में छोड़ दिया। क्योंकि उन्हें जिस कॉलेज में जाना था उस कॉलेज में उन्हें एडमिशन मिल नहीं रहा था और उन्हें अपने मन पसंदीदा कॉलेज के अलावा और किसी कॉलेज में जाने का मन नहीं था।

इसीलिए अपने सपने को आधा छोड़कर उन्होंने व्यापार करने की ठान ली और ये निर्णय उनके जिंदगी का सबसे बेहतरीन निर्णय था क्योंकि इस निर्णय ने उनकी पूरी जिंदगी को पलट दिया। कैट के एग्जाम में तीन बार असफल होने वाला व्यक्ति आज चार करोड़ के व्यापार का मालिक बन गया और इस व्यक्ति ने ना जाने कितने ही लोगों को अपनी इस सफलता से प्रेरित किया अपने जैसा बनने के लिए।

MBA चाय वाला की तरह पैसे कैसे कमाएं 
MBA चाय वाला की तरह पैसे कैसे कमाए 

लेकिन MBA चायवाला जैसा बनने के लिए प्रफुल्ल के परिश्रम के बारे में, उनकी रणनीतियों के बारे में, उनकी गलतियों के बारे में जानना जरूरी है इसीलिए आज का आर्टिकल उन्ही लोगों के लिए है जो MBA चायवाला से प्रेरित होकर खुद का व्यापार शुरू करना चाहते हैं, लेकिन उन्हें समझ में नहीं आ रहा है कि वह MBA चायवाला जैसा कैसे बने और MBA चायवाला की तरह पैसे कैसे कमाए। मतलब कि आज के इस आर्टिकल में मैं आपको बताऊंगी कि MBA चायवाला कौन है? आप लोग किस तरह से MBA चायवाला जैसा बन सकते है और MBA चाय वाले की तरह पैसे कमा सकते है।

MBA चायवाला कौन है?

MBA इन 3 अक्षरों का अर्थ है मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन और लोग इसे एक बढ़िया नौकरी पाने के लिए या फिर व्यापार की जानकारी पाने के लिए करते है लेकिन वर्ष 2017 के बाद MBA का फुल फॉर्म केवल मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन नहीं रहा बल्कि मिस्टर बिलौरे अहमदाबाद चायवाला भी बन गया। MBA चायवाला की शुरुआत 2017 में हुई प्रफुल्ल बिलौरे के जरिए। प्रफुल्ल का सपना था MBA करने का लेकिन कैट की परीक्षा में तीन बार फेल होने के बाद प्रफुल्ल अपनी जिंदगी से बहुत हताश और निराश हो गए और अपने सपने को अधूरा छोड़कर वह दुनिया घूमने के बारे में सोचने लगे।

सबसे पहले वह दिल्ली गए फिर दिल्ली से गुड़गांव हरियाणा और इसी तरह कुछ जगह घूमे और आखिर में अहमदाबाद पहुंचे और वहां से शुरुआत हुई MBA चायवाला, क्योंकि जब प्रफुल्ल अहमदाबाद में आए तो उन्हें अहमदाबाद का वातावरण और लोग इतने पसंद आ गए कि उन्होंने वहां रहने का निर्णय ले लिया।

लेकिन वहां रहने के लिए उन्हें पैसों की आवश्यकता पढ़ती है इसीलिए उन्होंने मैकडॉनल्स में जाकर एक वेटर का काम करना शुरू किया। जिसमें उन्हें हर घंटे के ₹37 मिलते थे उन्होंने यह नौकरी कुछ समय तक की लेकिन फिर अचानक उन्हें एक बार अपना खुद का चाय का व्यापार शुरू करने का ख्याल आया। क्योंकि उन्हें यह मालूम था कि भले ही भारत के विभिन्न प्रदेशों के लोगों का रहने का और खाने का ढंग अलग हो पर भारत में एक चीज है जो सभी प्रदेशों के लोग जरूर से जरूर पीते है और वह है चाय।इसीलिए अगर वह चाय का व्यापार करेंगे तो वह बहुत ही सक्सेसफुल होगा और उन्होंने ₹8000 लगाकर कुछ बर्तन, ठेला और चाय बनाने के लिए जिन-जिन चीजों की आवश्यकता है।

सब खरीदी और फिर चाय बनाकर बेचना शुरू किया। पहले दिन उनके चाय के ठेले पर कोई नहीं आया तो वह स्वयं गाड़ियों के पास जा जाकर उनके शिष्य नीचे करवाकर उन्हें अपनी चाय पीने को कहने लगे और पहले दिन उन्होंने₹30 के 10 चाय बेचकर ₹300 की कमाई की और फिर इसी तरह धीरे-धीरे करके उनका चाय का व्यापार बढ़ने लगा और ₹8000 लगाकर उन्होंने चार करोड़ का बिजनेस अंपायर खड़ा कर लिया। अब यह तो बातें हो गई कि MBA चायवाला कौन है, अब चलिए जानते है कि MBA चायवाला की तरह पैसे कैसे कमाए?

MBA चाय वाला की तरह पैसे कैसे कमाए?

आजकल हर कोई अपना मालिक खुद बनना चाहता है लेकिन ज्यादातर लोगों को लगता है कि अपना मालिक खुद बनने के लिए ढेर सारे पैसों की आवश्यकता होती है। पर प्रफुल्ल मतलब कि MBA चायवाला ने लोगों की इस सोच को गलत साबित करते हुए केवल ₹8000 लगाकर अपना 4 करोड़ का बिजनेस एंपायर खड़ा कर दिया।

जिस कारण से बहुत सारे ऐसे लोग जो छोटे घराने से आते है या जिन्हें अपना खुद का व्यापार खड़ा करना है, बिना ज्यादा पैसे लगाए वह लोग उनसे प्रोत्साहित हो गए है। और उनके जैसा बनना चाहते है लेकिन प्रफुल्ल चायवाला जैसा बनने के लिए कुछ ऐसी चीजें है जो कि आप को जानना जरूरी है तभी जाकर आप MBA चायवाला जैसे पैसा कमा सकते हो।

छोटी शुरुआत

अगर आपको MBA चायवाला जैसा बनना है तो उसके लिए आपको कोई बड़ा खर्चा करने की आवश्यकता नहीं होगी। क्योंकि उन्होंने भी केवल ₹8000 लगाकर आज चार करोड़ का व्यापार खड़ा किया है और उनका ऐसा मानना है कि कोई भी काम छोटा या बड़ा नहीं होता है। और अगर आप व्यापार की दुनिया में नए हो तो छोटी शुरुआत करने से आपका व्यापार जल्दी आगे बढ़ सकता है। क्योंकि अगर आप छोटा शुरुआत करोगे तो आपको आपके व्यापार के बारे में पूर्ण जानकारी होगी। मैं आपको एक उदाहरण देकर समझाती हूं, मान लीजिए कि आपने भी चाय बेचने के बारे में सोचा तो अगर आप पहले ही बड़े पैमाने पर व्यापार करने के बारे में सोचोगे तो आप पहले एक दुकान खरीदोगे फिर उसमें कुछ खाने पीने का सामान रखोगे।

उसके बाद उधर कुछ आदमी रखोगे जो कि चाय बनाएंगे और लोगों को देंगे पर इसमें क्या होगा कि कौन से लोग आपके दुकान पर आए उन्हें किस तरह की चाय पसंद है या क्या ना पसंद है वह सब आपको नहीं पता होगा और उसके साथ ही साथ आपके नीचे काम करने वाले व्यक्ति किस तरह से आप के लोगों से बर्ताव कर रहे है। और आपका कितना सामान लग रहा है कितना बर्बाद हो रहा है। उन सब चीजों की जानकारी आपको नहीं होगी जिस कारण से आपके व्यापार में क्या हो रहा है. क्या नहीं हो रहा है वह आपको खुद ही समझ में नहीं आएगा।

वहीं दूसरी तरफ अगर आप छोटे पैमाने पर व्यापार करने के बारे में सोचोगे तो एक चाय का व्यापार करने के लिए आपको एक ठेला लेना होगा। कुछ बर्तन लेने होंगे और कहीं से आग जलाने की व्यवस्था करनी होगी फिर आप वहां पर चाय बनाना शुरू सकते हो और चाय के साथ साथ अगर आपको मन है तो आप कुछ बिस्किट रख सकते है। खाने-पीने के लिए फिर वहां पर जितने भी लोग आएंगे उनसे आपकी बातचीत होगी और लोग आपसे बात करके आपकी बातों से और आपकी चाय बनाने के कौशल से प्रभावित होकर वहां पर रोज चाय पीने आएंगे।

जिससे कि आपको वहां के लोगों के बारे में जानकारी होगी कि कहां के लोगों को किस तरह की चाय पसंद है और कौन-सी जगह पर कैसी चाय बिकती है क्योंकि चाय भी कई प्रकार की होती कहीं कड़क चाय बिकती है तो वहीं कहीं मसाला चाय बनती है  कही तंदूरी चाय बनती है या कही अमृत तुल्य चाय बनती है। इसीलिए अपना व्यापार छोटे पैमाने पे शुरू करने मे जादा फायदा है क्योंकि उससे आपको व्यापार की तो जानकारी होगी ही साथ ही साथ आपको वहां के लोगों का रहन-सहन और खान-पान की भी जानकारी होगी जिससे कि आप वहां के लोगों से जल्दी घुल मिल जाओगे और अपना व्जयापार जल्दी बढ़ा पाओगे।

झटपट फैसले लेना

झटपट फैसले लेना मतलब कि quick decision making एक व्यापार में बहुत ही जरूरी होती है क्योंकि हम लोग सबको पता है कि हर व्यापार में कंपटीशन तो रहता ही है और हमारे competitor को हराने के लिए हमें उनसे पहले और उनसे अच्छे फैसले लेने पड़ते है। अगर हम फैसला लेने में देरी कर दें और हमारे competitor हमसे पहले कोई अच्छा फैसला ले ले तो उससे हमारे व्यापार को बहुत नुकसान हो सकता है। जैसे मान लीजिए कि l’oreal और Lakme यह दो मेकअप के ब्रांड है और अभी लाख में लोरियल से ज्यादा कमा रही है लेकिन अब अगर लॉरिअल ने अपने मेकअप के सामानों के ऊपर 10% छूट का ऐलान कर दिया तो लैक्मे को भी कुछ उसी तरह की स्ट्रेटजी अपनानी होगी, वरना लैक्मे के ज्यादातर कस्टमर लोरियल से सामान खरीदने लगेंगे।

जिससे कि लॉरिअल का मुनाफा होगा वही लैक्मे का नुकसान हो जाएगा इसीलिए झटपट फैसला लेना एक व्यापार में बहुत ही जरूरी होता है। क्योंकि व्यापार में हर पल का महत्व होता है 1 सेकंड में आपकी आपके व्यापार बढ़ सकता है, वहीं दूसरे ही सेकंड आपका व्यापार गिर भी सकता है इसीलिए क्विक डिसीजन मेकिंग बहुत जरूरी है।

दूसरों की गलतियों से सीखना

हमें बचपन से सिखाया जाता है कि अगर हम कोई गलत काम करते है तो उसे दोबारा दोहराना नहीं चाहिए और व्यापार में भी इससे लागू किया जाता है लेकिन यह जरूरी नहीं कि हम बस अपनी गलतियों से सीखे हमें दूसरों की गलतियों से भी सीखना चाहिए। जिससे हम अपना कम से कम नुकसान करें। इसीलिए एक व्यापार शुरू करने से पहले उस व्यापार की पूरी जानकारी और कितने तरह के लोग उस व्यापार को कर रहे है और किस तरह से उन्होंने उसकी शुरुआत की, अभी कैसे वह लोग सफल हुए इन सब के बारे में जानना आपको बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है।

क्योंकि उन लोगों ने जो गलती की वही गलती दोहरा कर आप अपने व्यापार को नुकसान मे डालने के बजाय आप उनकी गलतियों को समझोगे और उन्हें ना करने की कोशिश करोगे, जिससे कि आपका व्यापार जल्दी बढ़ेगा। इसीलिए दूसरों की गलतियों से सीखना बहुत जरूरी है अपने व्यापार को जल्दी आगे बढ़ाने के लिए।

जिज्ञासा

जिज्ञासा को आविष्कार की माता कहा जाता है क्योंकि अगर कभी न्यूटन को जिज्ञासा ही नहीं होती तो लॉ ऑफ मोशन आता ही नहीं। ठीक उसी तरह अगर व्यापारियों में जिज्ञासा नहीं होगी तो कोई नया आविष्कार बनेगा ही नहीं और अगर नया आविष्कार नहीं बनेगा। तो एक ही चीज के कॉम्पिटेटिव बढ़ते जाएंगे जिस कारण से व्यापारियों का प्रॉफिट मार्जिन बहुत कम हो जाएगा। इसीलिए हर व्यापारी को अपने कारोबार में कुछ ना कुछ अविष्कार करते रहना जरूरी है क्योंकि लोगों की पसंद वक्त के साथ बदलते रहती है।

इसलिए नए ट्रेंड को अपनाते हुए अपने व्यापार में कुछ बदलाव लाना आवश्यक रहता है जिस कारण से व्यापारियों में जिज्ञासा होनी बहुत आवश्यक है उन्हें जिज्ञासा होनी चाहिए कि अभी क्या ट्रेंड चल रहा है,  वह किस तरह से कम लागत में अपने सामानों की क्वालिटी बढ़ा सकते है, वह किस तरह से अपने सामान को एक नया रूप दे सकते है ताकि लोग उसकी तरफ आकर्षित हो इत्यादि।

आत्मविश्वास

कोई भी व्यापार शुरू करने से पहले एक व्यक्ति में आत्मविश्वास होना बहुत जरूरी होता है। बिना आत्मविश्वास के आप कुछ नहीं कर पाओगे क्योंकि आत्मविश्वास ही एक व्यक्ति को ऊंचाइयों तक पहुंचाने का काम करता है। अगर आपको खुद पर भरोसा होगा तभी आप दूसरों के ताने और कटु वचन को नजरअंदाज करके आगे बढ़ पाओगे, जैसे कि MBA चायवाला ने किया था।

जब उसने अपना व्यापार शुरू किया तो लोगों ने तरह-तरह की बातें कही गई कि यह तो यहां डिग्री लेने गया था देखो आज चाय बेच रहे है पर प्रफुल्ल को अपने ऊपर आत्मविश्वास था कि वह जो कर रहा है। वह आगे जाकर बहुत सक्सेसफुल होने वाला है जिस कारण से उसने कभी भी लोगों के ताने और नेगेटिव बातों को दिल पर नहीं लिया और अपने काम में लगा रहा और आज वह इतना नामी और अमीर व्यापारी बन गया। इसीलिए अगर आपको MBA चायवाला के जैसा बनना है तो आपके अंदर आत्मविश्वास होना बहुत आवश्यक है।

सोशल मीडिया

आज के जमाने में सोशल मीडिया का बहुत महत्व है क्योंकि आज की युवा पीढ़ी सोशल मीडिया पर लगी रहती है जिस कारण से ज्यादातर व्यापारियों ने सोशल मीडिया पर अपना एड करना शुरू कर दिया है और बहुत सक्सेसफुल भी हो गए है इसीलिए अगर आपको आज के जमाने में अपना व्यापार बनाना है और बढ़ाना है तो सोशल मीडिया को अपने व्यापार का एक हिस्सा बनाकर उसे हमेशा अपडेट करते रहिएगा मतलब कि आप कौन सा नया प्रोडक्ट लांच कर रहे हो या क्या नया काम करने जा रहे हो या आपने किस तरह से स्ट्रगल कर कर अपने सपनों को पूरा करने की कोशिश की उन सब की कहानियां सोशल मीडिया पर लोगों को बताते रहिएगा जिससे कि ज्यादा से ज्यादा लोग आपके तरफ आकर्षित होंगे और आपका व्यापार बढ़ेगा।

परक

लोगों की परख होना एक व्यापारी में सबसे महत्वपूर्ण गुण माना जाता है क्योंकि व्यापारियों को तरह-तरह के लोगों से मिलते रहना पड़ता है और कई बार उधार देकर या उधार लेकर काम करना पड़ता है और इस वजह से उन्हें लोगों की परख होना बहुत आवश्यक है और केवल उधार की बात नहीं है बात ग्राहकों की भी है कि किस तरह के ग्राहक को किस तरह की चीजें पसंद आएगी और किस तरह से अपने बातों में उलझा कर अपना सामान बेच सकते हो किस तरह के लोगों पर भरोसा करना है किस पर भरोसा नहीं करना चाहिए किस से मदद माननी चाहिए किस से मदद नहीं माननी चाहिए इत्यादि जैसी चीजें बहुत मायने रखते है एक व्यापारी के लिए इसीलिए लोगों की परख करना सीखना पड़ेगा तभी जाकर आप अपना व्यापार MBA चायवाला की तरह बना पाओगे।

खुद को मनाना

एक सबसे कठिन काम छोटा व्यापार शुरू करने का होता है स्वयं को मनाना क्योंकि जब कोई अच्छे घराने का व्यक्ति को छोटा सा व्यापार करने की कोशिश करता है तो लोग तरह-तरह की बातें करते है। जिससे वह डर जाता है कि कहीं समाज में लोग उसकी हसी ना उड़ानें लगे या कहीं उसके मित्र, उसके घर वाले उसके इस काम से शर्मिंदा ना हो जाए। इसीलिए स्वयं को मनाने बहुत कठिन काम होता है लेकिन अगर आप यह करने में सफल हो जाते हो तो आगे जाकर आपको बहुत फायदा होगा। जैसा कि MBA चायवाला के साथ हुआ था। उसने बहुत समय तक अपने माता-पिता से यह बात छुपाई थी कि वह एक चाय का ठेला लगाकर काम कर रहे है क्योंकि उसे पता था कि उसके माता-पिता उसे यह काम करने से रोकेंगे लेकिन फिर भी किसी तरह सबको माता-पिता को इस बारे में पता चल गया।

जिस कारण से उन्हें अपने रिश्तेदारों के तानों का शिकार बनना पड़ा और लोगों ने MBA चायवाला का भी बहुत मजाक उड़ाया। उसके खुद के दोस्तों ने तरह-तरह की बातें कही कि देखो यह तो स्कूल में बड़ा होशियार था और आज चाय का ठेला लगाकर घूम रहा है पर उसने इन बातों को अपने रास्ते का कांटा बनने नहीं दिया। बल्कि इन बातों से प्रेरित होकर उसने उन लोगों को यह साबित करने की ठान ली कि वह जो कर रहा है वह एक अच्छा काम है।

आगे जाकर उसकी यह मेहनत रंग लाएगी और ठीक वैसा ही हुआ आगे जाकर उसकी मेहनत रंग लाई और आज उसका इतना नाम हो गया। इसीलिए MBA चायवाला की तरफ पैसे कमाने के लिए आपको स्वयं को यह मनाना होगा कि कोई भी काम छोटा या बड़ा नहीं होता इसीलिए हर काम को पूरी शिद्दत से पूरा करो ताकि बाद में यह पछतावा ना रहे कि मैंने अगर ऐसा किया होता तो शायद आज कुछ और रिजल्ट होता।

लोगों से बात करने की कला

हम सबको पता है कि व्यापारियों की सबसे खास बात होती है उनके बात करने का तरीका क्योंकि व्यापारी इस तरह से हमें अपने बातों के जाल में फंसा लेते कि हमें उनका सामान खरीदना हीं पड़ जाता है इसीलिए अगर आपको MBA चायवाला की तरह पैसे कमाने है तो उसके लिए आपको बात करने की कला होनी चाहिए मतलब की आपको लोगों को अपनी तरफ अपने बातों से आकर्षित करना आना चाहिए भी आपका व्यापार अच्छे से चलेगा।

 सहनशक्ति

जैसा कि मैंने आपको अभी थोड़ी देर पहले बताया था कि जब कोई अच्छे घराने का व्यक्ति कोई छोटा मोटा व्यापार करने की कोशिश करता है तो उसे तरह-तरह की बातें सुननी पड़ती है और अगर आप उन तरह तरह की बातों को अपने दिल पर ले कर बैठ जाओगे तो आप व्यापार नहीं कर पाओगे इसीलिए अगर आपको MBA चायवाला की तरह व्यापार करना है तो आपके अंदर सहनशक्ति होनी चाहिए लोग चाहे कुछ भी कहे आपको अपने ऊपर विश्वास होना चाहिए और लोगों के तनो या नेगेटिव बातों का मुंह तोड़ जवाब अपने काम को सक्सेसफुल बनाकर देना चाहिए।

तो यह थे कुछ जरूरी गुण जो कि आपके प्रश्न ‘MBA चाय वाला की तरफ पैसे कैसे कमाए‘ को समझाने में आपकी मदद कर सकते है।

कौन-कौन से व्यापार कर सकते है?

MBA चायवाला ने एक चाय के ठेले से शुरुआत की थी जिसमें उन्होंने केवल ₹8000 लगाए थे और आज चार करोड़ के बिजनेस एंपायर के मालिक बन गए है। अपनी इस कामयाबी से उन्होंने लाखों लोगों को अपने तरफ बनने के लिए प्रेरित किया और अगर आप भी उन लाखों लोगों में से एक हो तो हो सकता है की आप लोगों के मन में भी यह सवाल होगी कि आप लोग किस तरह से MBA चायवाला की तरह पैसे कमा सकते है इसीलिए मैं आपको कुछ ऐसे व्यापार के बारे में बताऊंगी जो कि कम लागत में आपको ज्यादा मुनाफा देंगे और आप भी MBA चायवाला की तरह पैसे कमा पाओगे।

चाय बेचना

अगर आपको MBA चायवाला की तरह पैसे कमाने है तो उसके लिए आप उन्हीं की तरह चाय बेचने का व्यापार शुरू कर सकते इसमें आप कम इन्वेस्टमेंट में ज्यादा फायदा कर सकता हूं चाय बेचने के लिए आपको  एक ठेला, बर्तन, चाय पत्ती दूध इत्यादि जैसी सामग्रियों की आवश्यकता होगी।

बिगड़े मोबाइल को बनाने का व्यापार

यह एक ऐसा कारोबार है जो आप कहीं भी कर सकते हो आप का मन है तो आप घर में बैठकर भी कर सकते हो या फिर कहीं सड़क के किनारे या कोई दुकान लेकर कर सकते हो। इस कारोबार को शुरू करने के लिए आपको मोबाइल बनाने के लिए जो पुर्जों की जरूरत होती है वह खरीदने पड़ेंगे और आपको मोबाइल के सारे फंक्शन और मोबाइल के अंदर के पार्ट इत्यादि की जानकारी होनी चाहिए।

खाना बेचकर 

अगर आपको MBA चायवाला की तरह पैसे कमाने है तो उसके लिए जरूरी नहीं है कि आप केवल चाय ही बेचो। अगर आपका मन है तो आप तरह-तरह के खाने भी बेच सकते हो लेकिन ऐसा करने के लिए आपको खाना बनाना आना चाहिए। क्योंकि खाना बनाना चाय बनाने की तरह आसान नहीं होता है। उसमें तरह-तरह के मसाले लगते है और बहुत सारे दुकानदार तो अपने कोई सीक्रेट मसाले भी बनाकर उसमें डालते है। इसीलिए खाना बनाकर बेचना थोड़ा सा कठिन हो सकता है लेकिन अगर आपको बढ़िया खाना बनाना आता है तो आप इसमें तुरंत सफलता पा सकते हो। और अपने कारोबार को नई ऊंचाइयों तक पहुंचा सकते हो।

खाना बनाने के व्यापार की शुरुआतआप अपने घर कर सकते हो मतलब कि आप अपने घर में खाना बनाकर बेचने की सर्विस शुरू कर सकते हो और अपने खुद के किचन में खाना बनाकर बेच सकते हो या फिर आप सड़क किनारे  ठेला लगाकर भी खाना भेज सकते हो जैसे कि गुपचुप कठेला या पाव भाजी का ठेला या फिर पराठे का ठेला इत्यादि।

मोमबत्ती बनाने का व्यापार

आजकल लोगों में सुगंधित मोमबत्ती की मांग बहुत बढ़ गई है इसीलिए अगर आपको मोमबत्ती बनाना आता है तो आप अपने घर से मोमबत्ती बनाकर बेचने का व्यापार शुरू कर सकते हो इसमें आपके पैसे भी कम लगेंगे और आप अपनी कला को नई ऊंचाइयों तक पहुंचा पाओगे।

बेकरी

अगर आपको केक या फिर ब्रेड, बिस्किट इत्यादि जैसे चीजों को बनाना आता है तो आप बेकरी का व्यापार शुरू कर सकते हो आजकल ऐसे भी लोगों में केक की मांग बहुत बढ़ गई है लोग अपने जन्मदिन, सगाई, रिसेप्शन, एनिवर्सरी इत्यादि जैसे हर खुशी के मौके पर केक काटना एक आवश्यकता मानते है इसीलिए अगर आपको एक कला आती है तो आप अपना खुद का बेकरी का व्यापार शुरू कर सकते है इसके लिए आपका मन है तो आप अपने घर में इसकी शुरुआत कर सकते है या फिर आप एक छोटी सी दुकान को किराए पर लेकर वहां पर इसकी शुरुआत कर सकते है।

इसे भी पढ़ें:

निष्कर्ष

बड़े सपने तो सभी देखते है लेकिन उन सपनों को पूरा करने के लिए जो परिश्रम करना पड़ता है वह बहुत कम लोग कर पाते है क्योंकि कुछ लोग परिश्रम करने की कोशिश करते है। लेकिन एक बार हार कर निराश हो जाते है और फिर आगे परिश्रम करना छोड़ देते है जिस कारण से वह अपने सपने पूरे नहीं कर पाते है। वहीं दूसरी तरफ कुछ लोग होते है जो परिश्रम करने से ही डरते है और अपने सपने को पूरा करने के लिए कोई मेहनत ही नहीं करते है जो कि सही नहीं है। क्योंकि अगर आपको MBA चायवाला की तरह बनना है तो आपको फल के बारे में ना सोचकर केवल मेहनत करनी होगी और अपने ऊपर विश्वास रखना होगा।

जैसा कि हम सबको पता है कि सब्र का फल मीठा होता है इसीलिए आप मेहनत करते जाइए और अपने ऊपर विश्वास करके अपने काम में अपना जी जान लगा दीजिए और फिर देखिएगा किस तरह से आपकी मेहनत रंग लाएगी और आप अपने काम में सफल हो जाओगे और MBA चाय वाला की तरफ पैसे कमा पाओगे।

FAQ’S

Q.1 क्या कोई भी व्यक्ति MBA चाय वाला की तरह पैसे कमा सकते है?

Ans- MBA चायवाला की तरफ पैसे कमाने के लिए आपके अंदर व्यापारियों वाला दिमाग होना बहुत आवश्यक है और उसके साथ ही साथ आपको लोगों से बातचीत करना भी आना चाहिए और अगर आप में यह 2 गुण है तो आप MBA चायवाला की तरफ पैसे कमा सकते हो क्योंकि MBA चायवाला ने भी केवल 8000 लगाकर अपना व्यापार इतना बड़ा अपने व्यापारियों वाली बुद्धि और लोगों से बातचीत कर कर ही बढ़ाया है उन्होंने ने एक इंटरव्यू में कहा था कि किस तरह से लोग उनसे बहुत प्रभावित थे कि वह अंग्रेजी भी बोल पाते है और फिर भी चाय बेच रहे है इसीलिए ज्यादा से ज्यादा लोग उनके ठेले पर आते थे चाय पीने।

Q.2 क्या हमें कोई व्यापार शुरू करने से पहले सरकार की परमिशन या लाइसेंस की आवश्यकता होगी?

Ans- 2015 के बाद से किसी भी व्यक्ति को कोई भी व्यापार शुरू करने से पहले सरकार द्वारा रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य है। आप कहीं भी जाकर अपना ठेला लेकर सामान नहीं बेच सकते हो क्योंकि आपको सामान बेचने से पहले म्युनिसिपल कमेटी से लाइसेंस और भी जो जरूरी कागजात है वह बनवाने पड़ेंगे। लाइसेंस या रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए आपको जिस भी जगह व्यापार करना है उस जगह के म्यूनिसिपल कमेटी से जाकर बात करनी होगी और उन्हें कुछ पैसे देने होंगे रजिस्ट्रेशन फी के तौर पर यह करने के बाद आपका जहां मन है आप वहां पर सामान बेचन सकते हो।

Q.3 अगर हम बड़ी शुरुआत करना चाहे तो क्या हमारा नुकसान होना जरूरी है?

Ans- अगर आप बड़ी शुरुआत करना चाहते है तो यह जरूरी नहीं है कि आपका नुकसान ही होगा हो सकता है कि आपको बहुत फायदा हो लेकिन बड़ी शुरुआत करने के लिए ढेर सारे पैसे लगते है और अगर आपने बड़ी शुरुआत की और भगवान ना करें आपका नुकसान हो गया तो आप के ढेर सारे पैसे डूब जाएंगे इसीलिए अगर आप व्यापार की दुनिया में नए हो तो छोटी शुरुआत करना अच्छा माना जाता है क्योंकि इसमें आप कम लागत में शुरुआत कर सकते हो और अगर आपका व्यापार  असफल हुआ और आपके पैसे डूब गए तो आपका ज्यादा नुकसान नहीं होता।

PaiseKaiseKamayen
error: Alert: Content selection is disabled!!