SEO Expert बनकर पैसे कैसे कमाएं

दोस्तों क्या आप भी एक SEO Expert बनना चाहते हैं और SEO Skills के जरिए पैसे कमाना चाहते हैं या आप जानना चाहते हैं की SEO Expert बनकर पैसे कैसे कमाएं तो ये आर्टिकल आपके लिए बहुत काम आयेगी क्योंकि इस लेख में हम आपको वो तमाम जानकारी देंगे जो आपको एक SEO Expert बना देगी और जिससे आप पैसे कमाने लगेगें। इसमें कोई शक नहीं है की SEO जिसको आता है वो ऑनलाइन पैसे कमा सकता है। दोस्तों क्या आपको पता है की आप अपने SEO Skills का इस्तेमाल करके ऑनलाइन लाखों रुपये कमा सकते हैं।

यदि हम अपने SEO Skills का इस्तेमाल वेबसाइटों को Digitally करें यानी की SEO की मदद से Websites को रैंक करें या SEO के माध्यम से डिजिटल मार्केटिंग करें तो इससे भी हम बहुत सारे पैसे कमा सकते हैं। तो चलिए देरी न करते हुए हम आपको बताते हैं की SEO क्या है, इसमें किस तरह काम किया जाता है और ऐसे कौन से तरीके हैं जिसकी मदद से पैसे कमाएं जा सकते हैं।

SEO क्या होता है

दोस्तों SEO का नाम सुनते ही आप सोच रहे होंगे की SEO का मतलब क्या होता है, तो मैं आपको बता दूॅं की इसका मतलब “Search Engine Optimization” होता है। खैर यह तो हो गया इसका Full Form लेकिन यह काम कैसे करता है इसको समझने के लिए आपको थोड़ा और समय देना होगा और हमारे इस लेख को पूरा पढ़ना होगा। दोस्तों SEO, Search Engines जैसे Google, Yahoo या अन्य कई सारे Web Server के Search Engines जो हैं उनके लिए बनाया गया एक ऐसा तकनीक है जिसकी मदद से हम अपने बनाए गए Websites, Post, या Pages को Search Engines में सबसे पहले रैंक करवाते हैं।

यहाॅं रैंक करवाने से हमारा मतलब है की जब हम किसी संबंधित विषय पर कोई वेबसाइट बनाते हैं, कोई आर्टिकल लिखकर पोस्ट करते हैं या कोई पेज बनाते हैं, तो जब दूसरा कोई व्यक्ति उस संबंधित चीज़ को लेकर Search Engines में कुछ सर्च करता है तो उसे हमारा बनाया हुआ वेबसाइट, लिखा हुआ पोस्ट और बनाया हुआ पेज सबसे ऊपर दिखे इसलिए हम SEO का इस्तेमाल करते हैं। या फिर अगर हम दूसरे शब्दों में कहें तो SEO एक किसी भी एक वेबसाइट को ऑप्टिमाइज़ (optimize) करने की प्रक्रिया है और इस प्रक्रिया के कारण यह सर्च रिजल्ट्स को सर्च इंजन (search engine) के रिजल्ट पेज (SERPs) में अच्छी रैंक में प्रदर्शित करता है। 

SEO Expert बनकर पैसे कैसे कमाएं

यह एक Algorithm की तरह होता है जिसका इस्तेमाल करके हम अपने Site में Search Engine का इस्तेमाल करके Organic तरीके से ज्यादा से ज्यादा ट्रैफिक ला सकते हैं। अगर आप Digital Platforms में काम करते हैं तो आपको इस विषय में बहुत अच्छे से पता होगा की जब हम गूगल में कोई वेबसाइट (website) बनाते हैं और उसमें आर्टिकल (article) लिखकर कुछ पोस्ट करते हैं तो हमें अपने Website में आए ट्रैफिक (traffic) मतलब विजीटर्स के हिसाब से यानी जितने ज्यादा विजीटर्स आते हैं हमें उतनी ज्यादा कमाई होती है। क्योंकि जितने ज्यादा विजीटर्स आयेंगे उतने ही ज्यादा लोग हमारे वेबसाइट में चल रहे Ads को देखेंगे और उनपर क्लिक करेंगे। तो इससे हम ये समझ सकते हैं SEO की मदद से हम अपनी कमाई, बिना कुछ एक्स्ट्रा पैसे खर्च किए ऑर्गेनिक (organic) तरीके से कर सकते हैं।

SEO सीखने के क्या-क्या फायदे हैं

दोस्तों SEO सीखना Online पैसे कमाने का एक बेहतरीन तरीकों में से एक है ये केवल महज़ एक Skill मात्र नहीं बल्कि इससे आपको अच्छी इनकम भी होती है। किंतु दोस्तों मैं आपको बताना चाहूॅंगा की यदि आप वेबसाइटों को बनाने, रैंक करने और Freelancing करना चाहते हैं तो इस बात की कोई सटीक निश्चित्ता नहीं है कि आप SEO की मदद से कितना पैसा कमा सकते हैं।

  • SEO सीखकर आप अपने या अपने Customers के Websites और Pages को किसी भी Search Engine में Optimize कर सकते हैं और Google या अन्य Search Engines में रैंक करा सकते हैं।
  • SEO की मदद से Search Engine Optimization करके मार्केटिंग कंसेप्टस को सिख सकते हैं क्योंकि डिजिटल मार्केटिंग करने में SEO भी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।
  • SEO को लेकर भविष्य में बहुत सारे अवसर आने के आसार हैं क्योंकि पूरी दुनिया Digitalization को तवज्जो दे रही है। इसलिए हो सकता है की भविष्य में अभी के मुकाबले डिजिटल मार्केटिंग का प्रसार और ज्यादा हो जाए।
  • SEO करके यदि आप अपने Websites और Pages को Search Engine में रैंक करवाते हैं तो इसमें हम High Revenue Generate कर सकते हैं।

SEO काम कैसे करता है

दोस्तों अगर आप इस लेख को शुरू से और ध्यान से पढ़ रहे हैं तो अबतक आपने जान लिया होगा की SEO क्या है और इसके फायदे क्या – क्या होते हैं। अब हम आको बताते हैं की SEO काम कैसे करता है जब हम कोई वेबसाइट बनाते हैं तो उस वेबसाइट को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुॅंचाने के लिए SEO की मदद लेते हैं। इसके काम करने के तरीके को समझाने के लिए हम आपको एक उदाहरण देकर समझाने की कोशिश करते हैं। जैसे मान लीजिए हमने कोई वेबसाइट बनाई है जिसपर टेक्निकल (technical) से संबंधित आर्टिकल्स को पोस्ट करते हैं, जैसे हमने एक आर्टिकल लिखी “How to learn SEO” अब जब कोई भी Google में या अन्य किसी Search Engine में “How to learn SEO” सर्च करेगा तो उसे जो भी सबसे पहले सर्च रिजल्ट में दिखेगा उसमें SEO का इस्तेमाल बहुत अच्छे से किया है।

how to learn seo free

जैसे जब हमने Google में सर्च किया तो हमें कुछ इस तरह रिजल्ट देखने को मिलता है। इसमें पहले बॉक्स में दिखाये गये वेबसाइट का आर्टिकल सबसे पहले Show कर रहा है जबकि उसके नीचे और एक वेबसाइट का आर्टिकल Show कर रहा है यानी पहले वाली वेबसाइट ने दूसरी वाली वेबसाइट के मुकाबले अच्छे SEO का इस्तेमाल किया है जिसके कारण Search Engine के Search Result में पहले वाली वेबसाइट का आर्टिकल लोगों को पहले दिखेगा। ठीक इसी तरह जब हम भी SEO Expert बनकर अच्छी तरह से SEO का इस्तेमाल करते हैं तो हमारी वेबसाइट भी Search Engines के Search Result में पहले दिखती है। SEO के माध्यम से प्राप्त की गई Traffic पूरी तरह से ऑर्गेनिक होती है और ऑर्गेनिक Traffic को बढ़ाने के लिए ही SEO का इस्तेमाल किया जाता है।

आपने भी ध्यान दिया होगा की इंटरनेट के यूजर्स Google के टॉप रिजल्ट्स पर सबसे ज्यादा विश्वास करते हैं और टॉप वेबसाइट्स पर ही विजिट करना पसंद करते हैं। इसलिए अपने वेबसाइट को भी टॉप रिजल्ट्स में लाने SEO का इस्तेमाल करना बहुत जरूरी हो जाता है। जब आप अपने वेबसाइट को टॉप रिजल्ट्स में लाना सिख जाते हैं तो आप एक SEO Expert बन जाते हैं।

SEO कितने प्रकार के होते हैं

अगर आप पहले से ही इंटरनेट में वेबसाइट्स बनाकर काम करते हैं तो आपको SEO के बारे में थोड़ी – बहुत जानकारी होगी लेकिन अगर आपने इसपर ठीक से Research नहीं की है तो आपके मन में SEO सुनते ही आपके दिमाग में सबसे पहले शायद Keywords का ख्याल आया होगा। ज्यादातर लोगों को यही लगता है की अगर हम अपने पोस्ट्स में केवल Keywords का ही इस्तेमाल करें तो यह एक SEO है लेकिन जब आप SEO को गहराई से जानेंगे तो आपको पता लगेगा की SEO केवल Keywords तक ही सीमित नहीं है, बल्कि इससे कहीं ज्यादा है। परेशान मत होइए दोस्तों हम आपको हमारे इस पोस्ट में SEO से संबंधित गहरी जानकारी देने की कोशिश करेंगे जिससे आपको एक आइडिया लग जाए और SEO में आपको दिलचस्पी आने लगे। अब बात करते हैं SEO के प्रकार की तो SEO तीन प्रकार के होते हैं।

  1. On – Page SEO
  2. Off – Page SEO
  3. Technical SEO

On-Page SEO

दोस्तों अगर आप एक Freelancer हैं तो On-Page SEO से आप परिचित होंगे क्योंकि इस प्रकार के SEO का इस्तेमाल करके हम अपने Web Page के कंटेंट और Source Code को Optimize करते हैं। जिससे हमारे Website की Visibility SERPs (Search Engine Results Page) में बढ़ती है। अगर हम किसी पेज (page) के High Quality Content में अच्छा On – Page SEO का इस्तेमाल करते हैं तो, जब कोई User, Content से संबंधित कुछ सर्च करता है तो उसे सर्च रिजल्ट में On – Page SEO वाला पेज सर्च रिजल्ट में पहले दिखता है।

On-Page SEO की मदद से ब्राउज़र को Web Page के Context को समझने में मदद मिलती है। जिससे ब्राउज़र यूजर के सर्च Query से संबंधित Web Page को रिकमेंड करने में मदद करता है। साथ ही जिस Page में SEO का अच्छा इस्तेमाल किया जाता है उसे ब्राउज़र जल्दी लोकेट (locate) करता है और सर्च रिजल्ट में सबसे पहले दिखाता है। इस तरह के SEO में हम Title, Meta Description, Content Body इत्यादि में Keywords का इस्तेमाल करके पेज को Optimizable बनाते हैं। जब हम Keywords का इस्तेमाल करते हैं तो Search Engine को जानने में मदद मिलती है Web Page में किससे संबंधित कंटेंट लिखा गया है। साथ ही Keywords की मदद से पेज को Rank करने और ऑर्गेनिक ट्रैफिक को बढ़ाने में मदद मिलती है।

Off-Page SEO 

इस प्रकार के SEO में हम अपने वेबसाइट में काम करने की बजाय वेबसाइट के बाहर काम करते हैं जिससे की SERP में हमारे वेबसाइट की रैंकिंग और Page Authority बढ़े। Off-Page SEO का और एक फायदा है की इसका इस्तेमाल करने से आपके Page/Website की Popularity बढ़ती है। जो की इंटरनेट की दुनिया में आपके Website को पहचान दिलाने में मदद करती है। Off-Page SEO को समझने के लिए हम इसको दो वर्ग में बाॅंटकर समझ सकते हैं। 

  • Link-Related SEO : इसमें हम अपने वेबसाइट के लिए Backlinks बनाते हैं जो हमारे वेबसाइट की Popularity को बढ़ाने में मदद करता है। Backlinks भी लिंक्स ही होते हैं बस ये अलग-अलग दूसरे वेबसाइट्स या प्लेटफॉर्म्स में Share किए जाते हैं। जो आपके वेबसाइट या कंटेंट के पेज के लिंक्स होते हैं। इस तरह के लिंक्स को Search Engines ट्रैक कर High Quality Contents को इंडिकेट करते हैं और SERP में High-Rank पर Search Result में प्रदर्शित करते हैं।
  • Non-Link Related SEO : इसमें तरीके का इस्तेमाल करके भी हम अपने वेबसाइट की रैंकिंग को अच्छा कर सकते हैं। इसमें हम Social Media Promotions का इस्तेमाल करके अपने Website पर ट्रैफिक लाते हैं। Social Media Marketing/Promotions के अलावा इसमें हम Guest Blogging और इनफ्लुएंसर मार्केटिंग करके भी SEO कर सकते हैं।

Local SEO 

जैसा की आप नाम से ही थोड़ा बहुत आइडिया लगा सकते हैं, इस तरह के SEO Technique में हम अपने Locality की मदद लेकर SEO करते हैं। अगर उदाहरण देकर समझाने की कोशिश करूॅं तो मान लीजिए आप कोई दुकान चलाते हैं जिसकी अपने वेबसाइट बना रखी है या आप ऑफलाइन में कुछ ऐसे प्रोडक्ट्स या टिप्स देतें हैं जिसकी सर्विस आपने ऑनलाइन देनी भी शुरू कर दी है। तो ऐसे में आप अपने वेबसाइट को वहाँ के Locality के हिसाब से Optimize कर सकते हैं और ट्रैफिक ला सकते हैं।

Technical SEO 

दोस्तों Technical SEO भी एक प्रकार की SEO की ही प्रकार है जिसके माध्यम से हम Search Engines को अपने वेबसाइट को Crawl और Index करने में मदद करते हैं। इस प्रकार की SEO पर ज्यादातर लोग ध्यान नहीं दे पाते हैं क्योंकि उनके पास Technical SEO से संबंधित अधिक जानकारी नहीं होती है। अगर इसे Underrated SEO भी कहें तो हमारा कहना गलत नहीं होगा। क्योंकि Professional Bloggers के अनुसार अगर किसी वेबसाइट या पेज (page) की Technical SEO कमजोर है तो उसके On – Page और Off – Page SEO पर भी असर पड़ता है जिससे Proper SEO न होने पर Page की रैंकिंग में असर पड़ता है।

Technical SEO में दोस्तों हमें अपने द्वारा बनाई गई वेबसाइट की बनावट (architecture), Sitemap Submission, Indexing और Crawling जैसी चीजों में काम करना होता है। इन फैक्टर्स पर काम करके अपने वेबसाइट को Ranking के लिए बेहतर बनाना ही Technical SEO कहलाता है। इस प्रकार के SEO में User के Experience को बेहतर बनाया जाता है और जब User Experience बेहतर होता है तब Google जैसे Search Engines Pages को मुख्यता (priority) देता है।

दोस्तों अगर आप एक Regular Blogger हैं तो आपने ध्यान दिया होगा की आजकल Google, Loading Speed, User के Experience, Design और Responsiveness पर काफी ज्यादा ध्यान देता है इसीलिए हमारे लिए ये महतवपूर्ण हो जाता है की हम भी इन चीजों पर ध्यान दें जो की Technical SEO के माध्यम से किया जा सकता है। दोस्तों Technical SEO के कुछ फैक्टर्स हैं जिनपर काम करके हम Website को बेहतर बनाते हैं, चलिए हम आपको अब उन फैक्टर्स के बारे में बताते हैं। 

Technical SEO के महत्त्वपूर्ण फैक्टर्स

URL Structure – दोस्तों हमें अपने वेबसाइट का URL जितना संभव हो सके उतना छोटा रखना होता है। यह SEO के हिसाब से अच्छा माना जाता है। इसके साथ ही जब हम अपने वेबसाइट में कोई आर्टिकल लिखते हैं तो उस आर्टिकल के URL में हमें अपने आर्टिकल से संबंधित Keywords का इस्तेमाल करना चाहिए।

Domain Name – डोमेन नाम भी हमारे Technical SEO के अनुसार महत्वपूर्ण होता है। इसके माध्यम से हम Search Engines को बता पाते हैं की हमारा वेबसाइट किस तरह का वेबसाइट है। इसलिए ये जरूरी हो जाता है की हम अपने वेबसाइट के प्रकार को Search Engine को डोमेन नाम के माध्यम से बताएं। जैसे –

  • .com – commercial business (the most common TLD)
  • .org – organizations (typically, nonprofit)
  • .gov – government agencies
  • .edu – educational institutions
  • .net – network organizations
  • .mil – military

Rebots.txt – दोस्तों क्या अपने कभी सोचा है कैसे Google हमारे Site के इन्फॉर्मेशन (information) को इंटरनेट में पब्लिकली दिखाता ही आखिर Google को कैसे पता होता है की कौन सी जानकारी दिखानी है और कौन सी नहीं, तो इसका जवाब है Rebots.txt जी दोस्तों Search Engines को ये बताना की कौन से Files और Folders को इंटरनेट में सभी Public को दिखाना है और किन चीज़ों को नहीं इसके लिए Rebots.txt जिम्मेदार होता है।

Site Structure – हमारे लिए ये भी जरूरी हो जाता है की हम अपने वेबसाइट को एक अच्छा डिज़ाइन दें ताकि विजीटर्स को Scrolling करने में और कंटेंट पढ़ने में कोई समस्या न हो।

HTTPS and SSL Certificate – अगर हम Current समय की बात करें तो गूगल यूजर्स की सिक्योरिटी पे पूरा ध्यान देता है और Google Data Security के लिए जाना भी जाता है इसलिए HTTPS and SSL Certificate वाले वेबसाइट्स को गूगल अन्य वेबसाइट्स की जगह ज्यादा तवज्जो देता है। गूगल वेबसाइट्स के रैंकिंग के लिए SSL Activation का बहुत ज्यादा ध्यान देता है। दोस्तों आप जब किसी वेबसाइट में विजिट करते हैं तो कभी- न -कभी आपने भी ध्यान दिया होगा की URL के आगे एक Lock जैसा Symbol दिखता होगा और एक Not Secure करके लिखा हुआ आता होगा। इन्हीं दोनों से पता चलता है की कौन सी वेबसाइट Users के लिए Safe है और कौन सी नहीं।

XML SiteMap – दोस्तों Sitemap एक तरह का आपके वेबसाइट का एक छोटा सा RAW Map की तरह है। जिससे Site के Pages, Post, Categories, Images और Videos कितने हैं इन सबके बारे में Google Crawler को जानकारी मिलती है। आपको अपने वेबसाइट का Sitemap बनाना इसलिए भी जरूरी है ताकि Search Engines में आपकी वेबसाइट के Pages का Crawling और Indexing अच्छे से हो पाए।

Google AMP – Google AMP को हम Accelerated Mobile Page के नाम से भी जानते हैं। Google AMP का इस्तेमाल किसी वेबसाइट को जल्दी खोलने के लिए किया जाता है। दोस्तों जैसा की आप जानते हैं दुनिया की एक बड़ी आबादी Mobile Phones का इस्तेमाल करती हैं और बहुत से लोग अपने मोबाईल के इंटरनेट का ही इस्तेमाल करते हैं ब्राउज़र में Web Pages को विजिट करने के लिए, इसलिए कभी कभी मोबाईल की इंटरनेट स्पीड (internet speed) अच्छी नहीं होने के कारण Web Pages Load होने में समय ले लेते हैं। तो इसी लोडिंग स्पीड को बढ़ाने के लिए Google AMP का इस्तेमाल किया जाता है, जिससे Web Pages आसानी से और जल्दी से यूज़र के मोबाईल में लोड हो सके।

Site Speed Optimization क्या है

दोस्तों ऐसा कई बार होता है की हम अपनी वेबसाइट पर सभी चीजें एकदम अच्छे से कर लेते हैं, सभी प्रकार के SEO पर ध्यान देते हैं लेकिन फिर भी हमारी वेबसाइट पर ट्रैफिक (traffic) बहुत कम आती है। इसका कारण हमारी Website की लोडिंग स्पीड हो सकता है, ऐसा देखा गया है की जब कोई विजिटर (visitor) किसी वेबसाइट में विजिट करता है तो साइट जल्दी लोड न होने के कारण विजिटर उस वेबसाइट से Exit कर लेता है। ऐसी स्तिथि में Search Engines में आपके पेज की रैंकिंग कम हो जाती है। इसलिए हमारे लिए ये महतवपूर्ण हो जाता है की हम अपने वेबसाइट की स्पीड को बढ़ाएं ताकी विजीटर्स के आने पर ये जल्दी लोड हो सके।

Website की लोडिंग स्पीड को कैसे बढ़ाएं

  • Light Theme – अगर आप अपने वेबसाइट में कोई भारी डिजाइन और ज्यादा साइज वाले थीम्स का इस्तेमाल करते हैं तो इससे आपके वेबसाइट की लोडिंग स्पीड कम हो जाती है इसलिए ये कहा जाता है की आप जब भी अपना वेबसाइट बनाएं तो उसमें एक Lightweight Theme का इस्तेमाल करें ताकी Pages जल्दी लोड हो सकें और आपकी वेबसाइट की स्पीड बनी रहे। आपको ऑनलाइन ऐसी बहुत सी Themes मिल जायेंगी जो की Lightweight होती हैं और जो अच्छा Speed देती हैं।
  • Compressed Images/Videos – हम अपने वेबसाइट में जब भी कोई आर्टिकल लिखते हैं तो उस आर्टिकल में Images या Videos का इस्तेमाल करते ही हैं। लेकिन क्या आपको पता है की इन Images और Videos को Compress करके Optimize करने के बाद ही Add करना चाहिए ताकि वेबसाइट की Loading Speed पर कोई असर न पड़े। अगर हम बड़े-बड़े Size के Images का अपने आर्टिकल में इस्तेमाल करेंगे तो बड़ी साइज की फोटो होने के कारण Page Loading में ज्यादा समय लगेगा। Photos को Compress करने के लिए हम Photoshop या फिर Canva जैसे सॉफ्टवेयर्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • कम Ads का इस्तेमाल करें – दोस्तों हम जानते हैं की अगर हम अपने वेबसाइट में ज्यादा से ज्यादा Ads का इस्तेमाल करें तो इससे हमारी Earning भी ज्यादा होगी लेकिन, दोस्तों ऐसा करना आपके वेबसाइट के लिए सही नहीं होता है अगर आप ज्यादा Ads का इस्तेमाल करेंगे तो Ads को Load होने में समय लगेगा अगर Visitor की Internet की Speed अच्छी नहीं हुई तो Website की Loading Speed बहुत ज्यादा घट जाएगी जिसके बाद से आपके वेबसाइट पर लोग विजिट करना करना कम कर देंगे।
  • वेबसाइट के लिए अच्छा Hosting चुने – आपको पता होगा की वेबसाइट की सारी डाटा को संभालकर रखने का काम Hosting का होता है। जब आप अपने लिए वेबसाइट बनाते हैं तब आपको एक Web Hosting की आवश्यकता पड़ती है। अक्सर लोग जल्दबाजी में कोई भी Web Hosting की सर्विस को खरीद लेते हैं लेकिन दोस्तों ऐसा करना गलत है। क्योंकि जो Web Hostings जरूरत से ज्यादा सस्ते दामों में अपनी सर्विस देते हैं हो सकता है उनकी Server Slow हो। Server Slow होने के कारण वेबसाइट का कंटेंट भी लोड होने में समय लगाता है। जिसके फलस्वरूप इसका सीधा प्रभाव आपके Website की Loading Speed पर पड़ता है।
  • Cache को Enable करें – दोस्तों अगर आप अपने Website की Cache को Enable करते हैं तब आपके वेबसाइट की डाटा जल्दी लोड होने लगती है। Browser बहुत सारी Informations को Cache Files के रूप में सेव करके रख लेता है। जिससे जब हम दोबारा उसी वेबसाइट पर विजिट करते हैं तो Loading Speed बहुत अच्छी हो जाती है।

SEO Expert बनकर पैसे कैसे कमाएं

दोस्तों SEO एक ऐसी स्किल है जिसको सीखने में आपको ज्यादा परेशानी नहीं होगी या आपको ज्यादा इधर उधर नहीं जाना होगा। आप चाहे तो SEO से संबंधित चीज़ें Online भी सिख सकते हैं। SEO सीखने के बाद आपका सबसे बड़ा फायदा ये होता है की आप खुद से Freelancing करना शुरू कर सकते हैं। जिससे की आप अपनी SEO की सर्विस Online घर बैठे भी दे सकते हैं। चलिए अब हम आपको SEO सीखने के कुछ ऐसे फायदे और कमाई करने के तरीके बताते हैं जिनकी मदद से आपके मन में SEO के बारे में जानने की उत्सुकता को और बढ़ा सकते हैं।

  • SEO सीखने का सबसे बड़ा फायदा तो यही है की इसमें आप दूसरों को SEO की Service देना शुरू कर सकते हैं। जिससे आप अपने Customers को SEO की सर्विस देकर अपनी कमाई कर सकते हैं।
  • SEO सीखने से आप यदि खुद Online Websites बनाना चाहते हैं और पैसे कमाना चाहते हैं तो ये आपके लिए भी काम आ जायेगी। मान लीजिए कभी आपको मन किया की खुद की एक अच्छी सी वेबसाइट बनाकर और उस वेबसाइट में डेली काम करके पैसे कमाए जाए तो ये आप खुद कर सकते हैं आपको बस वेबसाइट बनानी है, डेली पोस्ट्स लिखने हैं और SEO की मदद से उनको Google जैसे Search Engines में रैंक करवाना है और आप अपनी खुद की कमाई शुरू कर सकते हैं।
  • जैसे ही आप SEO में आप एक Pro Level यानी एक Expert हो जाते हैं तो आप अपनी इस स्किल की मदद से SEO या Marketing Agencies के साथ मिलकर काम शुरू कर सकते हैं और इस तरह आप अपने लिए एक नौकरी भी खोज सकते हैं।

SEO Service देकर

अगर आप SEO सीखते हैं और आप एक SEO Expert बन जाते हैं तो, आप खुद का एक SEO Setup तैयार कर सकते हैं। यहाँ SEO Setup से हमारा मतलब है अपने लिए एक ऑफिस तैयार करें जिसमें आप SEO की Service सबको दे सकते हैं। SEO की खास बात ये है की अगर कोई वेबसाइट का मालिक आपके पास SEO कराने आता है तो वो एक Permanent Customer की तरह हो जाता है, क्योंकि जैसे-जैसे वेबसाइट में कंटेंट अपडेट होता है SEO की आवश्यकता होती है और अगर आप एक अच्छी SEO Service देते हैं तो आपके Customers हर-बार आपसे ही काम कराना चाहेंगे।

लेकिन दोस्तों एक बात का ध्यान रखें की किसी वेबसाइट पर ट्रैफिक लाना कोई आसान काम नहीं होता है। इसलिए आपके जो भी कस्टमर्स और जितने भी कस्टमर्स हैं उन्हें आपसे उम्मीद होगी की आप उनके लिए ट्रैफिक लाएं और उनके वेबसाइट को रैंक कराएं। ताकी आपके कस्टमर्स का भरोसा आप पर बना रहे और SEO के लिए आपसे ही हर बार संपर्क करें।

वैसे देखा जाए तो दोस्तों बाकी बढ़ती हुई इंडस्ट्रीज (industries) के साथ – साथ SEO का Business भी अच्छा तेज़ी पकड़ रहा है। इसका साफ – साफ कारण का अंदाज़ा लगाया जा सकता है की बढ़ती हुई Online उपस्थिति के कारण ज्यादातर कंपनियाँ ऑनलाइन ही Marketing Logics का इस्तेमाल करती हैं। अभी के समय यह अनुमान लगाया जा रहा है SEO Industry का भविष्य में 60-70 प्रतिशत तक विस्तार होगा। इसलिए यह समय बहुत ही अच्छा है की SEO सीखकर एकदम प्रोफेशनल की तरह आप अपने स्किल्स (skills) को डिवेलप (develope) कर लें ताकि SEO Expert बनकर पैसे कमाएं जा सकें।

SEO Freelancing करके

जैसा की हमने आपको ऊपर बताया की आप एक ऑफिस में अपनी SEO Service दे सकते हैं। लेकिन Freelancing में आप घर बैठे – बैठे ही अपनी SEO की सर्विस दे सकते हैं। इसमें आप Internet की मदद से Online काम कर सकते हैं, Freelancing की सबसे अच्छी बात ये है की इसमें आपको कोई प्रेशर नहीं रहता है आप इसे पार्ट टाइम की तरह भी कर सकते हैं। आपके पास जब भी समय हो आप SEO का काम कर सकते हैं वो भी अपनी इच्छा से न किसी भी प्रकार का समय का बंधन न किसी भी तरह का दबाव। अगर आप अन्य कहीं जगह किसी भी तरह का अन्य काम करते हैं तो आप अपनी नौकरी के साथ – साथ Freelancing के जरिए SEO का काम भी संभाल सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: YouTube Shorts से पैसे कमाए

Blogging करके SEO से पैसे कमाएं

दोस्तों अगर आपने SEO सीखी हुई है तो आप इसका इस्तेमाल करके अपने लिए Revenue Generate कर सकते हैं। इसके लिए आपको अपनी एक वेबसाइट बनानी होगी जिसमें आप डेली पोस्ट्स अपलोड कर सकें। पोस्ट्स अपलोड होने के बाद आपको SEO की मदद से थोड़ी बहुत ट्रैफिक लानी है। जब आपके वेबसाइट में थोड़ी बहुत ट्रैफिक आनी शुरू हो जाए तो आप Google Adsense में Apply कर सकते है जिसके बाद आपके वेबसाइट में Ads आने शुरू हो जाते हैं। Adsense आपके वेबसाइट्स में Ads दिखाने के बदले पैसे देता है।

अगर आप सोच रहे हैं की Blogging की शुरुआत कैसे करें इसका सीधा सा जवाब है आपको जिस भी विषय पर दिलचस्पी या नॉलेज हो आप उसी विषय पर Blogging करना शुरू कर सकते हैं। दोस्तों आपको केवल इतना ध्यान रखना है की आप जिसमें भी Blogging शुरू करते हैं उसमें आपको अपना कांटेस्ट (content) बहुत अच्छे से लिखना है क्योंकि कितना अच्छा आप लिखेंगे उतने ज्यादा लोगों को आपका कंटेंट पढ़ना पसंद आयेगा।

ये ठीक उसी तरह काम करता है जैसे की कोई प्रचलित मैगजीन की कंपनी XYZ है और प्रचार करने वाले अपना प्रचार करवाने के लिए उस मैगजीन वाली कंपनी से संपर्क करके अपना प्रचार करवाते हैं क्योंकि मैगजीन के बाजार में XYZ बहुत प्रचलित है जिसके कारण प्रचारकर्ता का प्रचार ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुॉंचने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। ठीक इसी प्रकार अगर आपका Blog भी लोगों के बीच प्रचलित होगा तो आपके ब्लॉग पर दिखाया गया Ad ज्यादा लोगों तक पहुंचेगा जिससे Ad को देखने वाले लोगों की संख्या में बढ़ोतरी होगी और AdSense की तरफ़ से आपको अच्छी कमाई होनी शुरू हो जाएगी।

निष्कर्ष

दोस्तों अब आप SEO Expert बनकर पैसे कैसे कमाएं से संबंधित बहुत कुछ जान चुके हैं। हमने कोशिश की है की आपको SEO से संबंधित अच्छी और लाभदायक जानकारी मिले जो आपके सच में काम आए। हमारे इस लेख में हमने आपको SEO से संबंधित हर जानकारी दी है जिससे के आप SEO को जानकर समझ पायें और SEO Expert बनकर पैसे कमा सकें। हमने आपको कुछ ऐसे तरीके भी बताएं हैं जिनका इस्तेमाल करके आप पैसे कमा सकते हैं। आप उनको पढ़कर उनको प्रैक्टिकली (practically) अप्लाई करके हर महीने एक अच्छी कमाई कर सकते हैं। दोस्तों अगर आपको हमारी ये आर्टिकल अच्छी लगे तो आप इसे अपने मित्रों और WhatsApp, Facebook Groups में भी शेयर करें ताकी वे भी ये आर्टिकल पढ़ पाएं और SEO से संबंधित जानकारी ले पाएं।

FAQ’s

क्या हम SEO Online सिख सकते हैं ?

हाॅं,  हम चाहे तो SEO Online सिख सकते हैं। इंटरनेट में ऐसे कई सारे प्लेटफार्म हैं जो SEO की Online Courses देते हैं। जिनमें Enroll करके आप Online SEO बहुत ही आराम से सिख सकते हैं। अगर आप कोई Course Purchase नहीं करना चाहते हैं तो आप Internet और YouTube जैसे जगहों से भी SEO सिख सकते हैं और SEO Expert बनकर पैसे कमा सकते हैं।

क्या SEO सीखकर हम Freelancing कर सकते हैं ?

जी हाॅं दोस्तों SEO सीखकर आप Freelancing भी कर सकते हैं। Freelancing करने का सबसे बड़ा फायदा यही होता है की इसे आप Part Time की तरह भी कर सकते हैं। SEO में आप घर बैठे-बैठे भी काम कर सकते हैं।

PaiseKaiseKamayen
error: Alert: Content selection is disabled!!