मधुमक्खी पालन करके पैसे कैसे कमाए

आप कभी ना कभी शहद का सेवन जरूर किया होगा, पर क्या शहद के सेवन करते वक्त आपके मन में यह सवाल आया कि शहद आता कैसे हैं और लोग इससे पैसे कैसे कमाते हैं। अगर आप भी इसके बारे में जानना चाहते तो यह आर्टिकल आपके सवाल का उत्तर देगा कहने का तात्पर्य यह है कि आज मैं आपको बताने वाली हूं कि आप मधुमक्खी पालन करके पैसे कैसे कमाए। हमारे बचपन में हमने ना जाने कितनी मधुमक्खी को और उनके छत्ते को देखा होगा और हम में से बहुत से लोगों ने उनके डंक (sting) भी खाए होंगे।

लेकिन एक बात तो माननी पड़ेगी इतनी छोटी सी दिखने वाली जीव इतने मीठे और दिल को भा जाने वाले शहद बनाती है। जिस कारण से भले ही यह कितनी खतरनाक क्यों न हो पर इसे रखना बहुत ही फायदेमंद साबित होता है। इसीलिए चलिए आज के मेरे आर्टिकल  के जरिए जानते हैं कि मधुमक्खी कितने प्रकार की होती है।

जिससे आपको कौन सी मधुमक्खी से किस तरह के फायदे होते हैं और आपको मधुमक्खी से पैसे कमाने के लिए कौन सी मधुमक्खी रखनी चाहिए। यह मालूम हो जाए, मधुमक्खी पालन कैसे किया जाता है। ताकि जब आप मधुमक्खी पालन करो तो आपको उसमें किसी भी प्रकार की दिक्कत का सामना ना करना पड़े, शहद कितने प्रकार के होते हैं। ताकि आपको यह समझ में आ जाए कि कौन से जगह किस तरह के शहद और किस तरह के काम के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं और अगर आपको ऑर्गेनिक मधुमक्खी पालन करनी है तो उसके लिए आपको क्या करना होगा और आखिर में हम लोग मधुमक्खी पालन करने के फायदे और नुकसान के बारे में बात करेंगे। जिससे कि आपको यह समझ में आ जाएगा कि अगर आप मधुमक्खी पालन करना चाहते हो तो आपको किस तरह के फायदा नुकसान हो सकते हैं।

मधुमक्खी पालन करके पैसे कैसे कमाए
मधुमक्खी पालन करके पैसे कैसे कमाए

मधुमक्खी कितने प्रकार की होती है?

जैसा कि मैंने बोला कि आज के इस आर्टिकल में मैं आपको मधुमक्खी पालन के बारे में सारी जानकारी दूंगी। इसीलिए चलिए मेरे आर्टिकल मधुमक्खी पालन करके पैसे कैसे कमाए के जरिए सबसे पहले जानते हैं कि मधुमक्खी कितने प्रकार की होती है। तो वैसे तो मधुमक्खी 15 हजार से ऊपर के प्रकार की होती है पर मधुमक्खी पालन करके पैसे कमाने के लिए आपको इतनी सारी मधुमक्खी के बारे में जाने की आवश्यकता नहीं होती है। क्योंकि शहद बनाने वाली मधुमक्खी केवल 7 प्रकार की होती है और भारत में ज्यादातर मधुमक्खी पालन करके पैसे कमाने के लिए 5 तरह के प्रकार की मधुमक्खियों का उपयोग किया जाता है। जिसके बारे में चली नीचे विस्तार में समझते हैं।

Dwarf bee

Dwarf मधुमक्खी को Apis florea भी कहते हैं और यह मधुमक्खियां दो तरह की होती है एक काली और दूसरी लाल हालांकि दोनों देखने में लगभग एक जैसी ही दिखती है और बहुत कम मात्रा में शहद देती हैं इसके अलावा यह पिलतू किस्म की नहीं होती है।

The rock bee

ज्यादातर नेपाल के तेराइ में पाई जाने वाली यह मधुमक्खियां बहुत ही हमलावर किस्म की होती है जिस कारण से इन्हें भी रखना बहुत खतरनाक होता है और यह अपना घर ज्यादातर लकड़ी में बनाती है लेकिन हनी हंटिंग के माध्यम से लोग इसके शहद, बीस्वैक्स इत्यादि को इकट्ठा करते हैं।

The Indian hive bee

यह सबसे ज्यादा पाई जाने वाली मधुमक्खियां होती है जिन्हें पालना आसान होता है क्योंकि यह ना ही ज्यादा हमलावर किस्म की होती हैं और ना ही एक जगह से दूसरी जगह ज्यादा जाति है और इसीलिए इन्हें मधुमक्खी पालन करने के लिए बहुत अच्छा माना जाता है।

Western/European bee

यह मधुमक्खी मधुमक्खी पालन करने वाले लोगों के बीच में बहुत ही प्रसिद्ध है क्योंकि यह सबसे पहली मधुमक्खी थी जीसे मधुमक्खी पालन के लिए इस्तेमाल किया गया था और आज के समय में भी इसे इस्तेमाल किया जाता है ना केवल शहद के लिए बल्कि परागण गतिविधि के लिए भी। यह मधुमक्खियां एक ही बार डंक मार सकती हैं और डंक मारने के थोड़ी देर बाद ही यह मर जाती है ।

Stingless और dammar bee

इस मधुमक्खी द्वारा दीया गया शहद बाकी मधुमक्खी द्वारा दिए गए शहद से 20 गुना ज्यादा महंगा होता है और इन्हें पालने के लिए मिट्टी के घड़े का उपयोग किया जाता है क्योंकि यह ज्यादातर बड़े शिलाखंड पुराने दीवाल इत्यादि में पाई जाती है।

तो यह थी कुछ ऐसी मधुमक्खी जिनके द्वारा आप मधुमक्खी पालन करके या फिर हनी हंटिंग के द्वारा पैसे कमा सकते हो अब चलिए बात करते हैं कि मधुमक्खी पालन कैसे किया जाता है ताकि आपके मन में मधुमक्खी को लेकर और उनके पालन को लेकर जितने भी सवाल है वह दूर हो जाए।

मधुमक्खी पालन कैसे करें?

हम सभी को पता है कि मधुमक्खी तीन प्रकार में बांटी गई है एक वर्कर, दूसरी क्वीन और तीसरा ड्रोन मधुमक्खी। जिसमें जो वर्कर मधुमक्खी होती है वह फूलों में जाकर उसके नेक्टर को इकट्ठा करके लाती है वहीं दूसरी तरफ जो ड्रोन मधुमक्खी होती है वह नर होता है और उसका काम नाही नेक्टर इकट्ठा करना होता है और ना ही शहद बनाना होता है उसका तो बस इतना काम होता है कि जो unfertilized रानी मधुमक्खी होती है।

उससे mate करना और रानी मधुमक्खी का काम बहुत सारे अंडे देना और ऐसी केमिकल्स सेंट देना होता है। जो कि मधुमक्खी के बीच में एकता बरकरार रखने में मदद करती है। अब यह बातें तो मधुमक्खी के बारे में हो गई अब चलिए बात करते हैं कि मधुमक्खी पालन करने के लिए क्या करना होता है तो मधुमक्खी पालन करने के लिए हमें कुछ सामानों की आवश्यकता होती है जिससे कि अगर मधुमक्खी डंक मारे तो आपको उससे ज्यादा हानि ना हो।

कहने का तात्पर्य यह है कि आप बिना किसी नुकसान के सफलतापूर्वक मधुमक्खी से उसके शहद और अन्य उत्पादों को ले पाए। इसीलिए चलिए चलिए मेरे आर्टिकल मधुमक्खी पालन करके पैसे कैसे कमाए के जरिए जानते हैं कि वह कौन से ऐसे समान है जो कि आपको मधुमक्खी पालन करने के लिए चाहिए होंगे।

जरूरी चीजें

जमीन- एक सबसे अहम चीज जो मधुमक्खी पालन करने के लिए आपके पास होनी चाहिए वह है जमीन मतलब आपके घर के पास कोई ऐसे खाली बगीचा या जगह जहां पर आप मधुमक्खी पालन करने के लिए हाइव रख पाओ और एक बात का ध्यान रहे आप जहां पर भी मधुमक्खी पालन की जगह रखते हो वहां पर इस बात का ख्याल रहे कि उस जगह पर मधुमक्खी के आने जाने का रास्ता एकदम साफ मतलब मधुमक्खी के आने-जाने में किसी भी तरह की बाधा ना हो।

Hive tool- इसका इस्तेमाल मधुमक्खी की देखरेख में किया जाता है मतलब कि इसके इस्तेमाल से मधुमक्खी के hive को खोला जा सकता है, propolis और wax को हटाया जा सकता है, hive के हिस्सों को ढीला किया जाता है।

Smoker- यह धातु का एक बर्तन रहता जो की लकड़ी, घास इत्यादि जैसे चीजों से भरा जाता है और फिर उसमें से धुआ निकालने के लिए उसमें आग लगाई जाती है। इसका इस्तेमाल मधुमक्खी को शांत करने के लिए किया जाता है क्योंकि जब भी मधुमक्खी को ऐसा एहसास होता है कि उस पर किसी भी प्रकार की मुसीबत आने वाली है तो वह एक अलग प्रकार का सेंट छोड़ती है जिसे सूंघ कर बाकी मधुमक्खी को पता चल जाता है कि उनके ऊपर कोई मुसीबत आने वाली है और वह लोग आक्रमण करते हैं इसीलिए स्मोकर की सहायता से जब आप धुआ करोगे तो यह सेंट बाकी मधुमक्खियों तक नहीं पहुंच पाएगा और आप आसानी से अपना काम कर सकते हो।

Suit- यहां पर सूट से मेरा तात्पर्य ऐसे सूट से है जिसे पहनने से अगर मधुमक्खी आपको डंक मारे तो वह डंक आप तक ना पहुंचे ताकि आप आसानी से मधुमक्खी के शहद भी ले लो और आपको किसी भी तरह का नुकसान ना हो। इसीलिए मधुमक्खी पालन करने से पहले आप अपने लिए एक ऐसा सूट जरूर खरीद ले जो कि आपको मधुमक्खी के डंक से बचाए।

Veil- मधुमक्खी पालन करने वाले लोग मधुमक्खी के शहद को निकालने से पहले suit के साथ-साथ gloves, टोपी और veil भी पहनते हैं ताकि उनके हाथ, सर इत्यादि जैसे जगह भी मधुमक्खी से बचे रहें।

Bee brush- मधुमक्खी के ब्रश का इस्तेमाल मधुमक्खी के शहद निकालते वक्त मधुमक्खी को हटाने के लिए किया जाता है।

आशा करती हूं अब तक आपको समझ में आ गया होगा कि अगर आपको मधुमक्खी का पालन करना है तो आपको किन सामानों की आवश्यकता होगी। चलिए अब जानते हैं कि मधुमक्खी का पालन कैसे किया जाता है तो मधुमक्खी का पालन करना थोड़ा कठिन काम होता है क्योंकि आपको मधुमक्खी को और उसके शहद को बाकि जानवरों और कीड़े मकोड़ों से बचाना होता है इसके अलावा जब आप अपने मधुमक्खी को हाइव में लाते हो तो उस समय नेक्टर इकट्ठा करने में कुछ समय रहता है।

उस समय आपको मधुमक्खी को कुछ खिलाना पिलाना भी रहता है जैसे कि पानी और चीनी का घोल जिसके बाद फिर आप मधुमक्खी के छत्ते को हाइव फ्रेम से गर्म चाकू की मदद से निकाल सकते हो और ताजा शहद का लाभ उठा सकते हो इसके अलावा आपको मोम भी मिलता है जिसको आप किसी और चीज के लिए इस्तेमाल कर सकते हो और उससे भी पैसे कमा सकते हो।

शहद कितने प्रकार के होते हैं?

मधुमक्खी पालन करके पैसे कैसे कमाए इसके बारे में तो आपको पता चल गया होगा अब चलिए बात करते हैं कि शहद कितने प्रकार के होते हैं लेकिन उससे पहले शहद के बारे में थोड़ी जानकारी प्राप्त करते हैं। तो शहद बनाने के लिए मधुमक्खी फूलों से मधुर द्रव मतलब कि नेक्टर इकट्ठा करती है जोकि सिंपल शुगर में परिवर्तित होता है जिसके बाद मधुमक्खी के पंख द्वारा हवा करने के कारण और मधुमक्खी के छत्ते के आकार के कारण इवापोरेशन होता है और शहद बनता है।

मधुमक्खियां वसंत ऋतु और गर्मी में नेक्टर और पोलैंड इकट्ठा करती है क्योंकि वह लोग सर्दी में बाहर ज्यादा समय तक जिंदा नहीं रह पाती है और शहद का इस्तेमाल नए मधुमक्खी को खिलाने के लिए किया जाता है ताकी वह जल्दी बड़े हो और काम कर पाए इसके अलावा शहद का रंग और उसका स्वाद इस बात पर निर्भर करता है कि मधुमक्खी ने किस फूल के मधुर द्रव को इकट्ठा किया था।

क्योंकि हर फूल के मधुर द्रव से अलग प्रकार का शहद बनता है जिस कारण से ऐसा माना जाता है कि शहद 300 से भी ऊपर प्रकार के होते हैं पर यहां मैं आपको 300 अलग प्रकार के शहद के बारे में नहीं बताऊंगी बल्कि उन सेहत के बारे में बताओ कि जो कि ज्यादातर वक्त है इसलिए चलिए जानते हैं कि शायद कितने प्रकार के होते हैं।

मनुका शहद

यह शहद न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया के 1 पौधे से बनता है और यह आपके बालों को मजबूत और अच्छा बनाने में मदद करता है इसके अलावा चोट, फुंसी, गले की खराश इत्यादि जैसे चीजों को ठीक करने में भी काम आता है और इसे दिन में दो बार खाना सेहत के लिए अच्छा माना जाता है।

क्लोवर शहद

इसके नाम से आपको पता चल गया होगा कि यह शहद क्लोवर फूल से बनता है और इसका रंग और स्वाद थोड़ा हल्का होता है इसके अलावा इस शहद का सेवन करने से आपके ब्लड प्रेशर अच्छे से रेगुलेट होता है जिस कारण से आपका हृदय अच्छा रहता है और यह सबसे ज्यादा बिकने वाला शहद है।

एकेसिया शहद

यह शहद ब्लैक लोटस नाम के फूल से बनता है और यह पूरी तरह से ऑर्गेनिक रहता है। इस का रंग ना के बराबर होते हैं पर इसके बहुत सारे गुण होते हैं क्योंकि यह फुंसी, घाव इत्यादि जैसे चीजों को ठीक करने में मदद करता है।

सफेद शायद

इस शहद को kiawe शहद भी कहा जाता है क्योंकि यह हवाई में मौजूद kiawe पौधे से मिलता है और यह तरल रूप में इकट्ठा किया जाता है पर कुछ समय बाद यह खुद ही क्रिस्टलाइज होकर एक क्रीम जैसा बन जाता है।

रोजमेरी शहद

यह अद्वितीय और सुगंधित शहद होता है जोकि हल्के रंग का और स्वाद का होता है और यह गठिया, लिवर इन्फ्लेमेशन प्रोसेस इत्यादि जैसे चीजों को ठीक करने के लिए फायदेमंद माना जाता है।

जामुन शहद

जामुन शहद केवल जामुन के फूलों से बनाया जाता है या फिर इस शहद में ज्यादा मात्रा जामुन के फूलों से इकट्ठा किए गए nectar की होती है और यह थोड़ा मीठा, खट्टा और कड़वा होता है खाने में और डायबिटीज के बीमारी वाले लोगों के लिए बहुत ही फायदेमंद माना जाता है इसके अलावा यह स्किन प्रॉब्लम, हाई ब्लड प्रेशर इत्यादि जैसे चीजों को भी ठीक करता है।

मधुमक्खी पालन करने की मुनाफे और नुकसान क्या है?

अब तक के आर्टिकल मधुमक्खी पालन करके पैसे कैसे कमाए के जरिए अपने मधुमक्खी के बारे में तो बहुत सारी जानकारी प्राप्त कर लि है अब चलिए जानते हैं की अगर आप मधुमक्खी पालन करते हो तो आपको किस तरह के फायदे और नुकसान हो सकते हैं।

फायदे

मधुमक्खी पालन करके पैसे कमाने के नुकसान जान्ने से पहले हम लोग चलिए विस्तार में यह जान लेते हैं कि किस तरह से मधुमक्खी पालन करने से आपको मधुमक्खी की जानकारी, ताजा शहद, शहद के आयुर्वेदिक गुण इत्यादि जैसे फायदे मिल जाते हैं।

  • मधुमक्खी पालन- एक सबसे अच्छा फायदा मधुमक्खी पालन का यह है कि इसमें आपको मधुमक्खी पालन करने के बारे में जानकारी मिलती है जिससे कि आपको मधुमक्खी के बारे में, उनके शहद बनाने के तरीके के बारे में, उनकी देखभाल करने के बारे में या इसी तरह के और भी कई जरूरी चीजों के बारे में जानकारी मिलती है जिससे कि आपका ज्ञान बढ़ता है।
  • ताजा शहद- एक दूसरा फायदा यह है कि आपको ताजा और केमिकल फ्री शहर मिलता है जो कि आपके लिए और बाकी लोगों के लिए जो आपके शहद को खरीदते हैं उनके लिए बहुत ही लाभदायक हो सकता है‌।
  • आयुर्वेदिक गुण- तीसरा फायदा मधुमक्खी पालन का यह की बहुत सारे शहद मे कई ऐसी चीजें होती है जो कि कई तरह की बीमारी ठीक करने में मदद करती है जैसे कि जामुन शहद हाई ब्लड प्रेशर ठीक करने में मदद करता है वहीं दूसरी तरफ रोज मैरी गाठिया जैसे रोगों को ठीक करने में मदद करती है।

नुकसान

अब तक तो आपने जान लिया कि किस तरह से आयुर्वेदिक गुण, ताजा शहद, मधुमक्खी पालन की जानकारी जैसे फायदे आपको मधुमक्खी पालन करने से मिल सकते आब चलिए जानते हैं कि किस तरह से आपको ट्रेनिंग, महंगाई और बीमारी जैसे नुकसान उठाने पड़ सकते है।

  • ट्रेनिंग- एक नुकसान यह है कि अगर आपको मधुमक्खी पालन के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है तो आपको मधुमक्खी पालन सीखने के लिए ट्रेनिंग या क्लास लेने पड़ सकते हैं जो की बहुत ही थका देने वाला हो सकता है और इसके लिए आपको पैसे भी भरने पड सकते हैं जिस कारण से यह आपको महंगा भी पड़ सकता है।
  • महंगा- मधुमक्खी को पालकर पैसे कमाने का दूसरा नुकसान यह है कि मधुमक्खी को पालना आपके लिए महंगा पड़ सकता है क्योंकि एक तो आप को मधुमक्खी को रखने के लिए hive खरीदना होता उसके बाद फिर आपको मधुमक्खी का शहद निकालने के लिए उनका डंग ना लग जाए इस डर से स्मोकर, सूट, टोपी, ग्लव्स इत्यादि जैसे सामानों में खर्चा करना पड़ सकता है।
  • बीमारी- तीसरा नुकसान मधुमक्खी पालन करके पैसे कमाने का यह है कि बहुत बार मधुमक्खियां बीमार हो जाती है और उन बीमारी का कोई इलाज भी नहीं होता है जिस कारण से आपको अपनी सारी मधुमक्खी खोनी पड़ सकती है इसके अलावा बहुत बार मधुमक्खियां आपको डंक भी मार सकती है जिस कारण से आप बीमार पड़ सकते हो।

निष्कर्ष

मैंने शुरुआत में कहा था कि मैं आज का यह आर्टिकल मधुमक्खी पालन करके पैसे कैसे कमाए में मैंने आपको बताया है कि किस तरह से आप मधुमक्खी का पालन कर सकते हो तथा मधुमक्खी कितने प्रकार की होती है? अगर आपको ऑर्गेनिक मधुमक्खी पालन करना है तो उसके लिए आपको क्या करना होगा और मधुमक्खी पालन करने के फायदे और नुकसान क्या होते हैं और मैं आशा करती हूं कि इस आर्टिकल के अंत में आपको आपके सारे सवालों के जवाब मिल गए होंगे कि किस तरह से अगर आप को मधुमक्खी का पालन करना है तो उसके लिए आपको सूट हाइव, हाइव टूल इत्यादि जैसे सामानों की आवश्यकता होगी इसके अलावा आपको मधुमक्खी को कुछ समय तक खाना भी खिलाना पड़ सकता है और मधुमक्खी को और उनके शहद को बाकी जीव जंतुओं से बचाना भी पढ़ सकते हैं।

इसके अलावा आपको यह भी समझ में आ गया होगा कि मधुमक्खी के बहुत सारे प्रकार होते हैं। जिसमें की ज्यादातर stainless, dwarf Indian hive इत्यादि जैसी मधुमक्खी पाई जाती और मधुमक्खी के शहद सफेद, जामुन, रोजमेरी, क्लोवर इत्यादि प्रकार के होते हैं और किस तरह से हम सभी को पता है कि मधुमक्खी थोड़ी सी खतरनाक जिव होती है। क्योंकि यह किसी भी वक्त हमें डंग मार सकती है और इसके अलावा इसके पालन में भी बहुत खर्चा उठाना पड़ता है।

क्योंकि एक तो आपको ट्रेनिंग लेनी होती और दूसरा मधुमक्खी के पालन के लिए बहुत सारी महंगी चीजें खरीदनी होती है लेकिन इसका फायदा यह होता है कि भले ही यह हमें डंग मारे पर यह हमे शहद दे देती है जो कि बहुत ही लाभदायक होता है क्योंकि उसमें आयुर्वेदिक गुण होता है और इसके अलावा मधुमक्खी का पालन करना एक बहुत ही मजेदार काम होता है क्योंकि यह आपको मधुमक्खी के बारे में ढेर सारी जानकारी देता है और आपको ताजा शहद खाने और बेचने भी मिलता है।

FAQ’S

क्या मधुमक्खी पालन करके हम केवल शहद बेच सकते हैं?

वैसे तो ज्यादातर मधुमक्खी पालन करके पैसे कमाने के लिए लोग शहद और वैक्स बेचते हैं पर यह जरूरी नहीं है कि आप मधुमक्खी पालन केवल शहद और वैक्स बेचो क्योंकि आप शहद और वैक्स के अलावा रानी मधुमक्खी, मधुमक्खी, पराग, propolis जो कि एक प्रकार का लाल और भूरे रंग का सब्सटेंस होता है जिसका इस्तेमाल मधुमक्खी अपने छत्ते को ठीक करने के लिए करती है और इसे इकट्ठा पेड़ की कलियों से किया जाता है, मधुमक्खी का जहर, लार्वा इत्यादि जैसी चीजों को भी बेच कर पैसे कमा सकते हो।

मधुमक्खी पालन करने के लिए किन सामानों की आवश्यकता होती है?

इसके लिए आपको कुछ जमीन चाहिए होती है जहां पर आप मधुमक्खी रख सको फिर उन मधुमक्खी को रखने के लिए hive चाहिए होता है। इसके अलावा जब आप मधुमक्खी के पास जाओ तो मधुमक्खी आपको डंग ना मार दे इसलिए आपको सूट, टोपी, veil इत्यादि जैसे बचाव के समान पहनने होते और आपको एक स्मोकर भी रखना होता है इसलिए कि जब आप मधुमक्खी के पास जाओ और उन्हें खतरे का अहसास हो तो वह अपने छोड़े हुए सुगंध से बाकी मधुमक्खियों को उस खतरे के बारे में ना बता पाए और आप आसानी से अपना काम कर सको।

मधुमक्खी पालन करके एक व्यक्ति कितना पैसा कमा सकता है?

आप सबके मन में मधुमक्खी पालन करके पैसे कमाने कि सारी जानकारी प्राप्त करने के बाद यह सवाल जरूर आया होगा कि अगर आप मधुमक्खी पालन करके पैसा कमाना चाहते हो तो आप उससे कितने पैसे कमा सकते हो। तो मैं आपको बता दूं कि आपको मधुमक्खी पालन करने में कम से कम 100000 तक का खर्चा उठाना पड़ सकता है।
लेकिन आप मधुमक्खी पालन करके साल का 300000 तक कमा सकते हैं जिसमें कि आप दो लाख तो केवल शहद बेचकर ही कमा लोगो पर एक बात का ध्यान रखना अगर अभी आप शुरुआत ही कर रहे हो तो आप शुरुआत में इतने पैसे नहीं कमा पाओगे लेकिन हां धीरे-धीरे जैसे ही आपका व्यापार बढ़ेगा आप आराम से लाखों पैसे या करोड़ों भी कमा सकते हो।

PaiseKaiseKamayen
error: Alert: Content selection is disabled!!